NDTV Khabar

हिंदी आती है तो कमा सकते हैं लाखों रुपए, जानिए ऐसी ही JOBS

क्या आपको पता है अंग्रेजी से ज्यादा पूरी दुनिया में हिंदी बोली जाती है. चीनी भाषा के बाद हिंदी भाषा का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है. 20 देशों में हिंदी भाषा का इस्तेमाल किया जाता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हिंदी आती है तो कमा सकते हैं लाखों रुपए, जानिए ऐसी ही JOBS

जॉब्स

खास बातें

  1. चीनी भाषा के बाद हिंदी भाषा का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है.
  2. करीब 50 करोड़ लोग हिंदी का इस्तेमाल करते हैं.
  3. 20 देशों में हिंदी भाषा का इस्तेमाल किया जाता है.
नई दिल्ली: क्या आपको पता है अंग्रेजी से ज्यादा पूरी दुनिया में हिंदी बोली जाती है. चीनी भाषा के बाद हिंदी भाषा का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है. 20 देशों में हिंदी भाषा का इस्तेमाल किया जाता है. करीब 50 करोड़ लोग हिंदी का इस्तेमाल करते हैं. अभी भी लोगों का लगता है कि अगर अंग्रेजी नहीं आती तो नौकरी पाना मुश्किल है.

पढ़ें- समोसा, जलेबी और गुलाब जामुन नहीं हैं हिंदी के शब्‍द, जानिए कहां से आए ये नाम

लेकिन ऐसा नहीं है, अगर आपको सिर्फ हिंदी भाषा आती है तो भी आप अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं. यहां तक की आप अपना करियर इससे बना सकते हैं. हिंदी दिवस के मौके पर हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसी जॉब्स जो आपको हिंदी भाषा आने पर मिल सकती हैं.

हिंदी स्टेनोग्राफर
जिन युवाओं की इच्छा सरकारी नौकरी करने की है. उनके लिए स्टेनोग्राफी एक अच्छा करियर विकल्प हो सकता है.  स्टेनोग्राफर की सैलरी भी अच्छी होती है और इसे सीखने का खर्चा भी बहुत कम है. 

पढ़ें- हिन्दी दिवस पर 'दरवाज़े बाईं तरफ खुलेंगे' वाले शम्मी नारंग की दो टूक​

कहां मिल सकती है जॉब?
हिंदी स्टेनोग्राफर को कोर्ट, सरकारी संस्थाओं, अखबारों, में काम मिलता है. कर्मचारी चयन आयोग के जरिए विभिन्न सरकारी विभागों में स्टेनोग्राफर के पद पर नियुक्तियां निकाली जाती हैं. 

क्या करना होगा?
स्टेनोग्राफर बनने के लिए उम्मीदवार को किसी भी विषय से स्नातक होना चाहिए. वैसे स्टेनो सीखने के लिए उम्मीदवार को कम से कम 12 वीं पास होना ही जरुरी है. सबसे पहले आपको स्टेनो टाइपिंग सीखना होगा. इसके लिए आप पॉलिटेक्निक कॉलेज या आईटीआई में प्रवेश ले सकते हैं. या किसी निजी संस्थान से ट्रेनिंग ले सकते हैं. स्टेनोग्राफर की सैलरी 5 हजार रुपए से लेकर 20 हजार रुपए तक होती है. सीनियरिटी के बाद 35 से 40 हजार तक की सैलरी मिलती है.
 
typing

स्क्रिप्ट राइटर

स्क्रिप्ट राइटिंग में डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्स होते हैं. इसके अलावा मास कम्यूनिकेशन के कोर्सेस में भी स्क्रिप्ट राइटिंग सिखाई जाती है. राइटिंग में इंटरेस्ट है तो आप इनमें से कोई एक कोर्स कर सकते हैं.

पढ़ें- लोकप्रिय भाषा के रूप में हिन्दी का 'कमबैक'

कहां मिल सकती है जॉब

स्क्रिप्ट राइटर को पत्र-पत्रिकाओ में कंटेंट राइटिंग, घोस्ट राइटिंग, वेब सीरीज राइटिंग, यूट्यूब चैनल राइटिंग, इवेंट राइटिंग और ऑनलाइन राइटिंग का काम मिल सकता है. राइटर्स की जरुरत एड कंपनियों और कॉरपोरेट कंपनियों में भी होती है. एडवरटाइजिंग एजेंसी, कॉमिक्स, वीडियो गेम्स, थियेटर प्ले, फिल्म, टेलीविजन, रेडियो के साथ ही आप फ्रीलांसिंग कर सकते हैं.
 
writing istock photo

राजभाषा अधिकारी
ग्रैजुएशन के बाद कोई भी राजभाषा अधिकारी बनने के लिए एलिजिबल होता है. आईबीएस, लोकसेवा आयोग के जरिए समय-समय पर वैकेंसी निकाली जाती है. रिटन टेस्ट और इंटरव्यू के जरिए योग्य उम्मीदवार का सिलेक्शन किया जाता है. इसमें हिंदी पर अच्छी कमांड होने के साथ ही आपको जनरल स्टेडी की तैयारी भी करना होगी.

पढ़ें- खेलिए यह हिन्दी क्विज़, और जांचिए, कितनी हिन्दी जानते हैं आप...​

कहां मिल सकती है जॉब?
राजभाषा विभाग राजभाषा अधिकारी के पद सृजित करता है. केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों में राजभाषा अधिकारी नियुक्त किए जाते हैं. मंत्रालयों में राजभाषा अधिकारी रिक्रूट किए जाते हैं. इसके अलावा बैंकों में आईबीपीएस के जरिए राजभाषा अधिकारी की नियुक्ति की जाती है. राज्यों में भी अलग-अलग विभागों में राजभाषा अधिकारी की वैकेंसी समय-समय पर निकलती है. सैलरी गवर्नमेंट के पे स्केल के हिसाब से मिलती है और सीनियरटी के हिसाब से बढ़ती जाती है.
 
government employees

प्रूफ रीडर
इसमें कैंडीडेट को ग्रैजुएट होना चाहिए. व्याकरण का नॉलेज हो. इसके अलावा टाइपिंग भी आना चाहिए. टाइपिंग स्पीड 80 शब्द प्रति मिनट हों.

कहां मिल सकती है जॉब?
राज्यसभा, पब्लिशिंग हाउस, न्यूजपेपर, मैग्जीन, एडवरटाइजिंग एजेंसी, पीआर एजेंसी के साथ कंटेंट में डील करने वाली प्राइवेट कंपनियों में प्रूफ रीडर नियुक्त किए जाते हैं. प्राइवेट संस्थानों में शुरुआती सैलरी 10 से 15 हजार रुपए होती है. वहीं गवर्नमेंट में 30 से 35 हजार रुपए माह सैलरी मिल जाती है. सीनियरटी के हिसाब से पैकेज बढ़ते जाता है.

हिन्दी दिवस पर विवेक रस्तोगी : हिन्दुस्तान, हिन्दुस्तानी बच्चे, और हिन्दी की हालत...

हिंदी टीचर, प्रोफेसर
टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट पास करके आप हिंदी की टीचिंग शुरू कर सकते हैं. हायर लेवल पर हिंदी का शिक्षक बनना है तो नेट और पीएचडी भी करना होगा. स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी, होम ट्यूटोरियल, ऑनलाइन टीचिंग के जरिए आप करियर की शुरुआत कर सकते हैं. प्रायमरी टीचर को 15 से 20 हजार रुपए की सैलरी आसानी से मिल जाती है. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement