HRD मंत्रालय का नाम "शिक्षा मंत्रालय" हुआ, वेबसाइट और सोशल मीडिया पर भी दिखे बदलाव

मानव संसाधन विकास मंत्रालय (MHRD) का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय (MoE)  कर दिया गया है. यह निर्णय 29 जुलाई को केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में लिया गया था.

HRD मंत्रालय का नाम

HRD मंत्रालय का नाम बदलकर "शिक्षा मंत्रालय" हो गया है.

नई दिल्ली:

मानव संसाधन विकास मंत्रालय (MHRD) का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय (MoE)  कर दिया गया है. यह निर्णय 29 जुलाई को केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में लिया गया था. मंत्रालय की वेबसाइट और शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के सोशल मीडिया पेज को भी अब मानव संसाधन विकास मंत्रालय से बदलकर शिक्षा मंत्रालय कर दिया गया है. बता दें कि केंद्रीय कैबिनेट मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' शिक्षा मंत्री हैं और संजय धोत्रे शिक्षा राज्य मंत्री हैं.

हालांकि, मंत्रालय की वेबसाइट के  URL को अभी तक नहीं बदला गया है. शिक्षा मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट अभी भी mhrd.gov.in से ही सर्च की जा रही है. बता दें कि मंत्रालय का नाम बदलने का प्रस्ताव नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) को मंजूरी देते हुए कैबिनेट द्वारा स्वीकार किया गया था. 

Newsbeep

दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान MHRD का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय करने के फैसले का स्वागत किया. दिल्ली के शिक्षा मंत्री ने कहा, "हालांकि, मंत्रालय के नाम का बदलना ही काफी नहीं है. मंत्रालय के पूरे ढांचे को बदलना होगा."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय (HRD) का नाम पहले शिक्षा मंत्रालय ही होता था. पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने बदलकर इसे मानव संसाधन विकास मंत्रालय कर दिया था. राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कुछ सहयोगी संगठनों की मांग थी कि नाम वापस शिक्षा मंत्रालय रखा जाए. नई शिक्षा नीति बनाने वाली कमेटी ने भी MHRD की जगह मिनिस्ट्री ऑफ एजुकेशन (MoE) यानी शिक्षा मंत्रालय नाम करने का प्रस्ताव दिया था. पहली शिक्षा नीति 1986 में बनाई गई थी, जिसके बाद 1992 में इसमें बदलाव किया गया था. अब एक बार फिर नई नीति लागू कर दी गई है.