बैंक पीओ के लिए सिर्फ 6 महीने ऐसे करें तैयारी, बढ़ जाएंगे सेलेक्‍शन के चांस

बैंक पीओ के लिए सिर्फ 6 महीने ऐसे करें तैयारी, बढ़ जाएंगे सेलेक्‍शन के चांस

नई दिल्‍ली:

इंडियन बैंकिंग पर्सनल सेलेक्‍शन (आईबीपीएस) की ऑफिशियल वेबसाइट के टेंटेटिव शेड्यूल के अनुसार पीओ भर्ती की प्रारंभिक परीक्षा अक्‍टूबर के महीने में हो सकती है. इस अनुसार एग्‍जाम होने में लगभग 6 महीने का समय है और कैंडिडेट्स को इसी दौरान पूरी तैयारी करनी है. यह जरूरी नहीं कि आप सिर्फ 6 महीने ही तैयारी करें, यह आपके ऊपर निर्भर करता है. आप छह महीने से ज्‍यादा भी तैयारी कर सकते हैं. लेकिन यह निश्‍चित है कि आपको सभी विषयों की तैयारी और रीविजन के लिए छह महीने का समय पर्याप्‍त होता है. आज हम आपको बता रहे हैं कि किस प्रकार आप पूरी प्‍लानिंग के साथ छह महीने में बैंक पीओ के लिए तैयारी कर सकते हैं.

कैसा है प्रारंभिक परीक्षा पैटर्न : आईबीपीएस पीओ की प्रारंभिक और मेन परीक्षा के पेपर में पांच सेक्‍शन होते हैं.
- इंग्‍लिश कॉम्प्रिहेंशन
- क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड 
- रीजनिंग एबिलिटी
- बैंकिंग अवेयरनेस और जनरल नॉलेस
- कंप्‍यूटर अवेरनेस


कैसे करें 6 महीने में पूरी तैयारी

पहले और दूसरे महीने ऐसे करें तैयारी :
बैंक पीओ की तैयारी शुरू करने के लिए सबसे जरूरी है सिलेबस की जानकारी. पहले और दूसरे महीने में सिलेबस से सवालों को सेक्‍शन के हिसाब से बांटे जो एग्‍जाम में पूछे जाएंगे. इसके बाद सबसे पहले उन टॉपिक्‍स को पढ़ना शुरू करें जो आपको सबसे ज्‍यादा मुश्‍किल लगते हों. सभी टॉपिक पर एक-एक घंटे का समय दें और जिस टॉपिक में आपको ज्‍यादा समस्‍या है उस पर थोड़ा ज्‍यादा समय दें.


तीसरे और चौथे महीने में ऐसे करें तैयारी: 
पहले और दूसरे महीने में सभी टॉपिक्‍स पर पढ़ाई करने के बाद आपको बैंकिंग एग्‍जाम से जुड़े किताबों को खरीदना चाहिए और सभी टॉपिक की पढ़ाई करनी चाहिए. इसके साथ-साथ आपको लंबे सॉल्युशन के बजाय शॉर्ट ट्रिक को भी अपनाना चाहिए, जिससे एग्‍जाम हॉल में आप टाइम बचा सकें.
पांचवें और छठे महीने ऐसे करें तैयारी :
जब एग्‍जाम के आखिरी दो महीने बचे हो तो आपको किसी ऑनलाइन मॉक टेस्‍ट को ज्‍वाइन करना चाहिए और रोज कम से कम  एक पेपर सॉल्‍व करना चाहिए. मॉक टेस्‍ट में सिर्फ प्रारंभिक परीक्षा के पेपर के साथ-साथ मेन एग्‍जाम के पेपर को भी सॉल्‍व करना चाहिए. मॉक टेस्‍ट से आपको पता चलेगा कि आप एग्‍जाम पेपर के किस सेक्‍शन में वीक हैं और इसके बार आप उस सेक्‍शन पर मेहनत कर सकते हैं. मॉक टेस्‍ट का यह भी फायदा होता है कि आप एग्‍जाम हॉल में टाइम मैनेजमेंट अच्‍छे कर पाते हैं और समय के अंदर ही पूरा पेपर सॉल्‍व कर पाते हैं.

एजुकेशन से जुड़ी और खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com