NDTV Khabar

एशिया की टॉप 50 यूनिवर्सिटीज में भारत की 4 IIT, IISc शामिल, DU की रैंकिंग पहले से बेहतर

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एशिया की टॉप 50 यूनिवर्सिटीज में भारत की 4 IIT, IISc शामिल, DU की रैंकिंग पहले से बेहतर
नई दिल्ली:

बेंगलूर स्थित इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (आईआईएससी) और मुम्बई, दिल्ली, मद्रास तथा कानपुर स्थित आईआईटी ने एशिया के शीर्ष 50 विश्वविद्यालयों की सूची में स्थान बनाया है। यह जानकारी 2016 के क्यूएस विश्वविद्यालय रैंकिंग में सामने आई है। आईआईएससी को इस वर्ष सूची में 33वां स्थान मिला है। यह संस्थान पिछले वर्ष भारतीय संस्थानों में शीर्ष पर था जब उसे सूची में 34वां स्थान प्राप्त हुआ था।

डीयू की रैंकिंग हुई पहले से बेहतर
वहीं आईआईटी मुम्बई को 35वां स्थान प्राप्त हुआ जबकि आईआईटी दिल्ली को 36वां, आईआईटी मद्रास को 43वां और आईआईटी कानपुर को 48वां स्थान हासिल हुआ। क्यूएस विश्वविद्यालय रैंकिंग में आईआईटी खडगपुर को 51वां स्थान मिला जबकि दो अन्य आईआईटी, रूड़की और गुवाहाटी को क्रमश: 78वां और 94वां स्थान मिला। सूची में दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) ने अपनी रैंकिंग को बेहतर बनाते हुए 66वां स्थान हासिल किया जिसे पिछले वर्ष 91वां स्थान प्राप्त हुआ था। कोलकाता विश्वविद्यालय को रैंकिंग में 108वां स्थान मिला जिसे पिछले वर्ष 149वां स्थान मिला था । मुम्बई विश्वविद्यालय को 145वां स्थान मिला जबकि बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय को 155वां स्थान हासिल हुआ।

टिप्पणियां

किसे हुए सर्वश्रेष्ठ का दर्जा प्राप्त
क्यूएस विश्वविद्यालय रैंकिंग में पिछले वर्ष की तरह ही नेशनल यूनिवर्सिटी आफ सिंगापुर (एनयूएस) को एशिया के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय का दर्जा प्राप्त हुआ। इसके बाद का स्थान यूनिवर्सिटी आफ हांगकांग को हासिल हुआ है। इस रैंकिंग में भारत का प्रदर्शन 17 देशों में पांचवां है। इस सूची की 350 संस्थाओं में भारत के 23 विश्वविद्यालयों ने स्थान बनाया है। ताइवान के 34, दक्षिण कोरिया के 54, जापान के 72 और चीन के 82 विश्वविद्यालयों को इस सूची में स्थान प्राप्त हुआ है। 


और किसे क्या मिली रैंकिंग
क्यूएस विश्वविद्यालय रैंकिंग में स्थान बनाने वाले अन्य संस्थानों में अमृत विश्वविद्यालय को 169वां स्थान प्राप्त हुआ जबकि पुणे विश्वविद्यालय को 176वां स्थान, एमिटी विश्वविद्यालय को 195वां स्थान, मणिपुर एकेडमी आफ हायर एजुकेशन को 200वां स्थान प्राप्त हुआ जबकि अन्ना विश्वविद्यालय ने 251 से 300 की श्रेणी में स्थान बनाया । इंडियन इंस्टीट्यूट आफ इंफार्मेशन टेक्नोलॉजी, इलाहाबाद, पांडिचेरी विश्वविद्यालय और आंध्र विश्वविद्यालय ने 301 से 350 की श्रेणी में स्थान बनाया । भारत की दृष्टि से अच्छी खबर यह है कि सभी संस्थानों की रैंकिंग इस वर्ष बेहतर हुई है। आईआईटी मुम्बई की रैंकिंग में पिछले वर्ष की तुलना में 11 स्थानों का सुधार हुआ जबकि आईआईटी दिल्ली की रैंकिंग में छह स्थानों का सुधार हुआ। आईआईटी मद्रास ने 13 स्थानों की छलांग लगाई तो आईआईटी कानपुर ने 10, आईआईटी खडगपुर ने 16, आईआईटी रूड़की ने 14 और आईआईटी गुवाहाटी ने चार स्थानों की छलांग लगाई।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement