IIT-JEE 2017: सिर्फ 14 फीसदी लड़कियां ही कर पाईं क्‍वालीफाई

इस बार के परिणामों में भी शीर्ष 10 में कोई लड़की अपनी जगह नहीं बना पाई है. लड़कियों में राम्या नारायणसामी ने टॉप किया है. राम्‍या की रैंक 35 है. 

IIT-JEE 2017: सिर्फ 14 फीसदी लड़कियां ही कर पाईं क्‍वालीफाई

IIT-JEE 2017: सिर्फ 14 फीसदी लड़कियां ही कर पाई क्‍वालीफाई

आईआईटी में एंट्री दिलाने वाली चुनौतीपूर्ण परीक्षा जेईई एडवांस का रिजल्‍ट जारी कर दिया गया है. देशभर के इंजीनियरिंग विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में प्रवेश के लिए आयोजित जेईई का परीक्षाफल रविवार को घोषित किया गया. इस बार के परिणामों में भी शीर्ष 10 में कोई लड़की अपनी जगह नहीं बना पाई है. लड़कियों में राम्या नारायणसामी ने टॉप किया है. राम्‍या की रैंक 35 है. 

आईईटी जेईई एडवांस रिजल्ट 2017 में चंडीगढ़ के सर्वेश मेहतानी ने टॉप किया, जबकि पुणे के अक्षत चुग को दूसरे नंबर पर रहे और दिल्ली के अनन्य अग्रवाल को तीसरा स्थान मिला.

केरल के शाफिल महीन ने दक्षिण जोन में शीर्ष स्थान हासिल किया है. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास द्वारा जारी बयान के अनुसार, 21 मई को आयोजित जेईई (एडवांस्ड) परीक्षा में कुल 1,59,540 प्रतिभागी शामिल हुए थे, जिनमें 50,455 प्रतिभागियों ने सभी श्रेणियों की लिस्ट में जगह हासिल की है.

बयान के अनुसार, लिंग अनुपात के अनुसार 43,318 लड़कों ने जबकि 7,137 लड़कियों ने सफलता हासिल की है. सामान्य वर्ग के 23,390, पिछड़े वर्ग-एनसीएल के 9,043, अनुसूचित जाति के 13,312 और अनुसूचित जनजाति के 4,170 छात्र सफल हुए हैं. बयान के अनुसार, "अब यह प्रतिभागी विभिन्न आईआईटी संस्थानों में प्रवेश के लिए योग्य हैं."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस से इनपुट

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)