IMA ने हरियाणा के मेडिकल कॉलेजों में MBBS फीस को बढ़ाकर की 10 लाख रुपये

हरियाणा सरकार की चिकित्सा सेवा चुनने के लिए डॉक्टरों को प्रोत्साहित करने के लिए, राज्य सरकार ने 6 नवंबर को एक नीति बनाई जिसमें कहा गया था कि सरकारी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस डिग्री कोर्स के लिए चुने गए उम्मीदवारों को 10 लाख रुपये के लिए वार्षिक बॉन्ड निष्पादित करने की आवश्यकता है.

IMA ने हरियाणा के मेडिकल कॉलेजों में MBBS फीस को बढ़ाकर की 10 लाख रुपये

नई दिल्ली:

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) के अध्यक्ष राजन शर्मा ने हरियाणा सरकार द्वारा राज्य के सरकारी मेडिकल कॉलेजों की फीस बढ़ाने के फैसले की आलोचना की है. सार्वजनिक मेडिकल कॉलेजों में फीस 50,000 रुपये प्रति वर्ष से बढ़ाकर 10 लाख रुपये प्रति वर्ष कर दी गई है. इसके साथ, एमबीबीएस कोर्स में प्रवेश पाने वाले छात्र को चार साल के कोर्से के लिए 40 लाख रुपये का भुगतान करना होगा.

राजन शर्मा ने  ANI से सरकार के बारे में पूछे जाने पर कहा, "मैं इस फैसले की कड़ी निंदा करता हूं. क्या हम गरीब परिवारों के छात्रों के लिए कर रहे हैं, जो प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद सरकारी कॉलेजों में प्रवेश लेते हैं? हरियाणा में इस फैसले का विरोध हो रहा है.

राजन शर्मा  ने कहा, "अध्यादेश में, यह स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि यदि कोई छात्र हरियाणा सरकार की नौकरी में आता है, तो सरकार एक लोन प्रदान करेगी, सरकार EMI का भुगतान करेगी लेकिन रोजगार की गारंटी नहीं है. इस अध्यादेश को लाने के लिए क्या आवश्यकता थी?

हरियाणा सरकार की चिकित्सा सेवा चुनने के लिए डॉक्टरों को प्रोत्साहित करने के लिए, राज्य सरकार ने 6 नवंबर को एक नीति बनाई जिसमें कहा गया था कि सरकारी मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस डिग्री कोर्स के लिए चुने गए उम्मीदवारों को 10 लाख रुपये के लिए वार्षिक बॉन्ड निष्पादित करने की आवश्यकता है.

उम्मीदवार लोन के लिए पूरी तरह से बांड के बिना राशि का भुगतान कर सकता है या राज्य सरकार उन्हें इस बांड राशि के लिए शिक्षा लोन प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करेगी. यदि उम्मीदवार राज्य सरकार के साथ रोजगार प्राप्त करता है, तो नीति के अनुसार, सरकार लोन की वार्षिक किश्तें चुकाएगी.

हरियाणा मेडिकल एजुकेशन  और रिसर्च डिपार्टमेंट के लिए शुल्क में संशोधन किया है और छात्रों के लिए बांड पेश किए हैं, जिसके लिए लोन की एक प्रणाली रखी गई है.

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com