कोरोना इफेक्ट: स्कूल खुलने पर इस राज्य में ऐसे चलेंगी क्लासेस, मंत्री ने दी जानकारी

 शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि स्कूलों के खोले जाने पर "अल्टरनेट मॉडल" का पालन किया जाएगा.

कोरोना इफेक्ट: स्कूल खुलने पर इस राज्य में ऐसे चलेंगी क्लासेस, मंत्री ने दी जानकारी

पश्मि बंगाल में 30 जून के बाद खुलेंगे स्कूल.

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के चलते लंबे समय से देशभर के सभी स्कूल बंद हैं. अब कुछ राज्यों में स्कूलों को खोले जाने पर विचार किया जा रहा है. लेकिन अब स्टूडेंट्स को स्कूलों में नए नियमों का पालन करना होगा. खबरों की मानें तो पश्चिम बंगाल में स्कूल खुलने पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का सख्ती से पालन किया जाएगा और इसके तहत स्टूडेंट्स को अल्टरनेट दिनों में क्लासेस अटेंड करनी होंगी. शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि स्कूलों के खोले जाने पर "अल्टरनेट मॉडल" का पालन किया जाएगा और विभाग यह सुनिश्चित करेगा कि क्लासेस में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन किया जा रहा है. 

अल्टरनेट मॉडल के बारे में पूछे जाने पर मंत्री ने कहा कि इस बारे में अधिक जानकारी बाद में दी जाएगी. शिक्षा विभाग के एक सूत्र ने बताया कि एक क्लास के स्टूडेंट्स के एक ग्रुप को वैकल्पिक दिन पर क्लास अटेंड करनी होगी.

शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने बताया कि राज्य में स्कूलों को 30 जून के बाद फिर से खोलने की योजना बनाई जा रही है. उन्होंने कहा कि निजी शिक्षण संस्थानों पर इस मॉडल को फॉलो करने का कोई दबाव नहीं है वे अपना खुद का टाइम टेबल बनाकर उसे भी फॉलो कर सकते हैं. हालांकि, उन्होंने ये संकेत दिया कि वे आशा करते हैं कि निजी स्कूल भी सरकार के फैसले का पालन करेंगे. 

उन्होंने आगे कहा, "यदि एक राज्य-संचालित स्कूल और एक प्राइवेट स्कूल एक ही इलाके में स्थित हैं, तो दोनों के लिए समान नियम होंगे, क्योंकि एक ही इलाके के छात्रों को समान स्थिति का सामना करना पड़ेगा."

वहीं, इससे पहले बुधवार को पश्चिम बंगाल सरकार ने राज्य के सभी स्कूलों को 30 जून तक बंद रखने के आदेश दिए हैं. यानी पश्चिम बंगाल के सभी स्कूल 30 जून तक बंद रहेंगे. शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि यह निर्णय इसलिए लिया गया है, क्योंकि करीब 8 जिलों में चक्रवात अम्फन द्वारा कई स्कूलों की बिल्डिंग डैमेज हो गई हैं और संभावना है कि कुछ बिल्डिंग्स को क्वारनटीन सेंटर में तब्दील किया जाए. बता दें कि इससे पहले राज्य सरकार ने 10 जून तक स्कूलों को बंद रखने के आदेश दिए थे. लेकिन अब पश्चिम बंगाल में सभी स्कूल 30 जून तक बंद रहेंगे.

Newsbeep

पश्चिम बंगाल बोर्ड ने कोरोनावायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lovkdown) से पहले ही माध्यमिक परीक्षाओं को पूरा कर लिया था. इस साल पश्चिम बंगाल की 10वीं क्लास की परीक्षाओं में करीब 10.16 लाख स्टूडेंट्स शामिल हुए थे. परीक्षाएं 18 फरवरी को शुरू होकर 27 फरवरी तक चली थीं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं, हायर सेकेंडरी के बचे हुए पेपर 29 जून से 6 जुलाई के बीच आयोजित किए जाएंगे. बता दें कि पश्चिम बंगाल में 9वीं और 10वीं क्लास के लिए पश्चिम बंगाल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (WBBSE) है और 11वीं और 12वीं क्लास के लिए पश्चिम बंगाल काउंसिल फॉर हायर सेकेंडरी एजुकेशन (WBCHSE) है.