Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इंडियन स्कूल ऑफ माइंस के कॉन्‍वोकेशन में स्‍टूडेंट पहनेंगे इंडियन कपड़े, लेंगे संस्‍कृत में संकल्‍प

धनबाद के ISM कॉलेज के स्टूडेंट्स दीक्षांत समरोह में भारतीय परिधान पहनेंगे. लड़के कुर्ता-पायजामा, जबकि लड़कियां साड़ी या सलवार-कमीज पहनेंगी.

इंडियन स्कूल ऑफ माइंस के कॉन्‍वोकेशन में स्‍टूडेंट पहनेंगे इंडियन कपड़े, लेंगे संस्‍कृत में संकल्‍प

इंडियन स्कूल ऑफ माइंस में दीक्षांत समरोह में स्टूडेंट्स भारतीय परिधान पहनेगे.

खास बातें

  • ISM धनबाद के दीक्षांत समरोह में भारतीय परिधान पहनेगे स्टूडेंट्स
  • स्टूडेंट्स के पास संस्कृत में दीक्षांत संकल्प लेने का भी विकल्प होगा
  • 2016 में आईएसएम को आईआईटी का दर्जा मिला था
नई दिल्ली:

IIT धनबाद के इंडियन स्कूल ऑफ माइंस (ISM) के स्टूडेंट्स यहां दीक्षांत समरोह में भारतीय परिधान पहनेंगे. स्टूडेंट्स 92 साल से दीक्षांत समरोह में पहना जा रहा पारंपरिक गाउन नहीं पहनेंगे. ISM के स्टूडेंट्स के पास संस्कृत में दीक्षांत संकल्प लेने का भी विकल्प होगा. साल 2016 में ISM के आईआईटी का दर्जा हासिल करने के बाद से यह प्रथम दीक्षांत समारोह है.

AIIMS Result 2018: MBBS एंट्रेंस एग्जाम के नतीजे जारी, ऐसे करें चेक

‘डीन ऑफ इंफ्रास्ट्रक्चर ’ जे के पटनायक ने कहा कि संस्थान ने दीक्षांत समारोह में स्टूडेंट्स के लिए नया परिधान नियम निर्धारित किया है. इस नियम के तहत लड़के कुर्ता पायजामा पहनेंगे, जबकि लड़कियां साड़ी या सलवार कमीज पहनेंगी.

गांव में रहने वाले स्टूडेंट्स अब घर पर आसानी से कर पाएंगे UPSC की तैयारी

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 25 मई को दीक्षांत समारोह कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर आने का कार्यक्रम था. लेकिन उनका कार्यक्रम आखिरी समय में रद्द हो गया. इसके बाद अधिकारियों ने कार्यक्रम को पुनर्निर्धारित किया और अब यह दो दिवसीय कार्यक्रम होगा.

VIDEO: रामदेव चीफ गेस्ट तो बिदका स्पॉन्सर!