NDTV Khabar

UGC ने कहा- वैश्विक विश्वविद्यालय रैकिंग में गायब है भारतीय दृष्टिकोण

UGC के अध्यक्ष ने सोमवार को कहा कि केंद्र वैश्विक एजेंसियों के मापदंड में संशोधन के लिए उनके साथ बातचीत की जा रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
UGC ने कहा- वैश्विक विश्वविद्यालय रैकिंग में गायब है भारतीय दृष्टिकोण

भारतीय विश्वविद्यालय को शीर्ष 300 अकादमिक संस्थानों की सूची में जगह नहीं मिली है.

नई दिल्ली:

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के अध्यक्ष ने सोमवार को कहा कि केंद्र वैश्विक एजेंसियों के मापदंड में संशोधन के लिए उनके साथ बातचीत कर रहा है ताकि जब वे शैक्षणिक संस्थानों की वार्षिक रैकिंग तैयार करें तो, हाशिये पर रहने वाले वर्गों को शिक्षा प्रदान करने में भारतीय विश्वविद्यालयों के प्रयासों की अनदेखी न हो. यूजीसी अध्यक्ष डी पी सिंह ने कहा कि वैश्विक रैकिंग एजेंसियां मोटे तौर पर वैश्विक सहभागिता मापदंड पर भरोसा करती हैं, उनमें से कुछ ऐसे हैं जो भारतीय विश्वविद्यालयों में नहीं हैं.

उनसे हाल ही घोषित की गयी वैश्विक रैकिंग में भारतीय विश्वविद्यालयों के खराब प्रदर्शन के बारे में पूछा गया था. हाल ही में घोषित ‘टाईम्स हायइर एजूकेशन वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैकिंग' के अनुसार किसी भी भारतीय विश्वविद्यालय को शीर्ष 300 अकादमिक संस्थानों की सूची में जगह नहीं मिली है.

सिंह ने कहा,‘‘ हमें पहले यह समझने की जरूरत है कि कैसे यह रैकिंग दी जाती है. ग्लोबल रैकिंग एजेंसियां वैश्विक भागीदारी पर अधिक जोर देती हैं.'' वह कुलपतियों के राष्ट्रीय सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए यहां गुजरात विद्यापीठ आए थे.


अन्य खबरें
DU SOL: दिल्ली यूनिवर्सिटी का स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग शुरू करेगा 5 ऑनलाइन कोर्स, घर बैठे मिलेगी डिग्री
HRD ने कहा- IIT M.Tech फीस बढ़ोतरी वर्तमान छात्रों के लिए नहीं

टिप्पणियां



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement