NDTV Khabar

राजस्थान में दिव्यांगों के लिए बनेगी इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी

राजस्थान देश का ऐसा राज्य बन गया है जहां दिव्यांगजनों के कल्याण के लिए संवेदनशील नजरिए के साथ एक जून से पंडित दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन अभियान व्यापक स्तर पर शुरू किया गया है.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राजस्थान में दिव्यांगों के लिए बनेगी इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी
राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा है कि प्रदेश के करीब 15 लाख दिव्यांगजनों को सक्षम और स्वावलंबी बनाने का काम किया जाएगा और इसके लिए विशेष अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय स्थापित करने की योजना बनायी जा रही है.

राजे ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन अभियान के दूसरे चरण के शुभारंभ समारोह को संबोधित कर करते हुए कहा कि राज्य सरकार दिव्यांगजनों के कल्याण के लिए पूरी तरह संवेदनशील है. विशेष योग्यजनों को समर्पित इस अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय के लिए राज्य सरकार की एक अन्य अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय से बातचीत चल रही है.
  उन्होंने कहा, दिव्यांगजन समाज के महत्वपूर्ण अंग हैं और उन्हें संबल प्रदान करना हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है. मुख्यमंत्री ने 13 दिसम्बर से शुरू होने वाले अभियान के तीसरे चरण में विधायक कोष के सहयोग से दिव्यांगजनों को ट्राइसाइकिल उपलब्ध कराने, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना से प्रदेश के सभी पात्र दिव्यांगजनों को जोड़ने तथा 25 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती की घोषणा भी की. उन्होंने कहा कि इस भर्ती के बाद अब शिक्षकों के रिक्त पदों की समस्या नहीं रहेगी. राजे ने तीन विशेष योग्यजनों को प्रदेश के पहले यूनिक डिसएबिलिटी आईडी कार्ड तथा पांच अन्य विशेष योग्यजनों को डिसएबिलिटी सर्टिफिकेट और सहायक उपकरण प्रदान किए.

उन्होंने कहा कि राजस्थान देश का ऐसा राज्य बन गया है जहां दिव्यांगजनों के कल्याण के लिए संवेदनशील नजरिए के साथ एक जून से पंडित दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन अभियान व्यापक स्तर पर शुरू किया गया है.
 
करियर की और खबरों के लिए क्लिक करें



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement