NDTV Khabar

50 हजार ग्रेजुएट्स को उनकी पहली नौकरी पाने में मदद करेगा इंटर्नशाला

इस कैंपेन के जरिए बेरोजगारी और स्किल गैप जैसी समस्याओं को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है. इससे उन छात्रों को फायदा होगा जो अपने लिए सही नौकरी तलाश नहीं कर पा रहे हैं.

5 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
50 हजार ग्रेजुएट्स को उनकी पहली नौकरी पाने में मदद करेगा इंटर्नशाला
इंटर्नशिप और ऑनलाइन ट्रेनिंग प्लैटफॉर्म इंटर्नशाला ने ग्रैजुएट्स को अपना करियर बनाने में मदद करने के लिए पहल शुरू की है. इस कैंपेन का नाम 'इंडिया एंप्लॉयड' रखा गया है. हर साल हमारे देश के कई कॉलेजों से लाखों छात्र ग्रैजुएट होकर निकलते हैं, लेकिन उनमें से सिर्फ 8-10 फीसद छात्रों को ही जॉब ऑफर मिल पाता है. इंटर्नशाला प्लेटफॉर्म ने इस चीज को ध्यान में रखते हुए बाकी नौकरी की तलाश में जुटे ग्रैजुएट्स को अपना करियर बनाने में मदद के लिए इंटर्नशिप करवाने का फैसला लिया है. बताया जा रहा है कि इस कैंपेन से मार्च 2018 तक 50 हजार ग्रैजुएट्स को इंटर्नशिप प्रोग्राम से जोड़ा जाएगा.  

इंटर्नशिप के अलावा नौकरी का भी मौका
इस कैंपेन के जरिए बेरोजगारी और स्किल गैप जैसी समस्याओं को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है. इससे उन छात्रों को फायदा होगा जो अपने लिए सही नौकरी तलाश नहीं कर पा रहे हैं. ऐसे छात्रों को इंटर्नशिप प्रोग्राम में प्री प्लेसमेंट का भी ऑफर दिया जाएगा. जिससे उन्हें उनकी जरूरत के मुताबिक नौकरी मिल सके. इससे छात्रों को इंटर्नशिप के बाद उसी कंपनी में नौकरी पाने का भी मौका मिलेगा. 

इंटर्नशाला की इस पहल के तहत प्री-प्लेसमेंट ऑफर्स के साथ इंटर्नशिप ऑफर करने वाले ब्रैंड में टीच फॉर इंडिया, आदित्य बिड़ला, ओवाईओ रूम्स, डेकाथलॉन और स्पोर्ट्सकीड़ा शामिल हैं. 1,600 से ज्यादा इंटर्नशिप के लिए बेरोजगार ग्रैजुएट्स आवेदन कर सकते हैं. 
  नौकरी पाने के लिए स्किल सीखना जरूरी
इंटर्नशाला के संस्थापक और सीईओ सर्वेश अग्रवाल ने इस कैंपेन के लॉन्च के दौरान बताया कि 'इंटर्नशाला में हर दिन हमारे सामने उन ग्रैजुएट्स की कहानी आती रहती हैं, जिन्होंने इंटर्नशिप की मदद से अपना शानदार करियर बनाया. उन्होंने कहा, हमारा मानना है कि इंटर्नशिप बेरोजगारी की समस्या का एक सफल हल है और इससे ग्रैजुएट्स को पहली नौकरी पाने के लिए जरूरी स्किल सीखने में मदद कर सकते हैं.

लगभग हर फील्ड के छात्र कर सकते हैं अप्लाई
इंटर्नशाला को 2010 में शुरू किया गया था, इसमें करीब 20 लाख लोगों ने रजिस्ट्रेशन किया है. इसके जरिए ग्रैजुएट्स और कई अलग-अलग फील्ड के छात्र अपने लिए इंटर्नशिप प्रोग्राम ढूंढ़ सकते हैं. इसमें इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, अप्लाईड आर्ट्स, साइंस, लॉ, डिजाइन, होटल मैनेजमेंट और आर्केटेक्टर जैसे कई तरह की स्ट्रीम के छात्र एप्लाई कर सकते हैं. इसके अलावा कई छात्रों को इसी इंटर्नशिप के जरिए नौकरी पाने का भी मौका मिल जाता है. 
 
करियर से जुड़ी अन्य खबरों के लिए क्लिक करें



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement