NDTV Khabar

जामिया ने शुरू किया यूनानी फार्मेसी का कोर्स, ऐसा करने वाला देश का पहला विश्वविद्यालय

देश में इस कोर्स को शुरू करने वाला पहला विश्वविद्यालय बना जामिया मिल्लिया इस्लामिया

1.3K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जामिया ने शुरू किया यूनानी फार्मेसी का कोर्स, ऐसा करने वाला देश का पहला विश्वविद्यालय

जामिया विश्वविद्यालय की फाइल फोटो

खास बातें

  1. जल्द ही प्रोफेसर की नियुक्ति करेगा जामिया प्रशासन
  2. डिप्लोमा कोर्स कर सकेंगे छात्र
  3. प्रैक्टिकल के लिए दूसरे संस्था में भी जाएंग छात्र
नई दिल्ली: जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय ने यूनानी फार्मेसी का कोर्स शुरू किया है. ऐसा करने वाला यह देश का पहला केंद्रीय विश्वविद्यालय है. अब छात्र जामिया से यूनानी फार्मेसी में डिप्लोमा का कोर्स कर सकेंगे. इस कोर्स को शुरू करने की घोषणा करते हुए जामिया के कुलपति प्रो. तलत अहमद ने कहा कि इस कोर्स को शुरू करना भारत के विश्व प्रसिद्ध हकीम अजमल खान साहब को श्रद्धांजलि की तरह है. यह कोर्स युवाओं के लिए काफी लाभदायक साबित होगा.

यह भी पढ़ें: मेट्रो स्टेशन पर पेंटिंग के ज़रिए जामिया मिलिया इस्लामिया के सफ़र को दर्शाएंगे स्टूडेंट्स

इस कोर्स को सुचारू रूप से चलाने के लिए हम जल्द ही इस विषय के प्रोफेसर व एसोसिएट प्रोफेसर की उपलब्धता भी सुनिश्चित करेंगे. इस मौके पर युनानी मेडिसिन से जुड़ी रेस्क इंडस्ट्री के निदेशक शुएब अकरम ने कहा कि यूनानी फॉर्मेसी में डिप्लोमा कोर्स करने वाले छात्र उनके संस्थान में व्यवहारिक चीजें समझ सकते हैं.

VIDEO: जामिया के छात्र ने शुरू की भूख हड़ताल


उन्होंने कहा कि इस कोर्स में दाखिला लेने वाले पहले बैच के छात्रों को उनकी संस्था दस-दस हजार रुपये देगी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement