NDTV Khabar

JNU का गार्ड अब बनेगा वहां का स्टूडेंट, ये है 33 साल के रामजल मीणा की सक्सेस स्टोरी

जेएनयू में गार्ड की नौकरी कर रहे रामजल मीणा (Ramjal Meena) अब वहां एक स्टूडेंट बनकर कक्षाओं में भाग लेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
JNU का गार्ड अब बनेगा वहां का स्टूडेंट, ये है 33 साल के रामजल मीणा की सक्सेस स्टोरी

रामजल मीणा (Ramjal Meena) पिछले 5 सालों से जेएनयू में गार्ड की नौकरी कर रहे हैं.

नई दिल्ली:

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय का एक गार्ड (JNU Security Guard) अब एक स्टूडेंट बनकर कक्षाओं में भाग लेगा. जेएनयू में गार्ड की नौकरी कर रहे रामजल मीणा (Ramjal Meena) ने दिन रात मेहनत कर जेएनयू की प्रवेश परीक्षा पास की है. रामजल मीणा नौकरी के साथ प्रवेश परीक्षा (JNU Entrance Exam) की तैयारी कर रहे थे. रामजल मीणा पिछले 5 सालों से जेएनयू में गार्ड की नौकरी कर रहे हैं. खास बात ये है कि रामजल मीणा ने प्रवेश परीक्षा में सफलता प्राप्त कर बीए रशियन भाषा पाठ्यक्रम में एडमिशन लिया है. 33 वर्षीय रामजल मीणा (Ramjal Meena) राजस्थान के करौली जिला के निवासी हैं. रामजल तीन बच्चों के पिता हैं. जेएनयू प्रवेश परीक्षा में पहली बार उपस्थित हुए मीणा ने कहा, "मैने नवंबर 2014 में जेएनयू में काम करना शुरू किया. मैने यहां का शैक्षिक वातावरण देखा और तब मैने एक छात्र के रूप में यूनिवर्सिटी ज्वाइन करने के बार में सोचना शुरू किया.''

उन्होंने बताया कि उन्होंने 2002 में 12वीं की परीक्षा पास की थी. मीणा ने कहा, "मैंने कई ऐप डाउनलोड किए हैं और जिनका इस्तेमाल में करेंट अफेयर्स की जानकारी के लिए करता हूं. इसके अलावा, जब मैंने जेएनयू में पढ़ाई करने की इच्छा व्यक्त की, तो परिसर के कई छात्रों ने मुझे अध्ययन सामग्री के साथ मदद की"  मीणा काम करने के बाद रोज 4 घंटे प्रवेश परीक्षा की तैयारी करते थे. उन्होंने कहा, ''मैं परिसर के छात्रों और प्रोफेसरों के साथ जुड़ता था. यहां हर किसी ने मुझे प्रोत्साहित किया" 


मीणा ने कहा, "मेरी कक्षाएं जल्द ही शुरू होने वाली हैं. मेरी नौकरी का क्या होगा और मैं अपने परिवार की देख भाल कैसे करूंगा इसकी मुझे चिंता है. लेकिन मुझे उम्मीद है कि कोई रास्ता जरूर निकलेगा." उन्होंने कहा, "मैं इन दिनों यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी भी कर रहा हूं. हमें नहीं पता कि भविष्य में क्या होने वाला है." बता दें कि रामजल मीणा जेएनयू मुख्य द्वार के सामने मुनिरका गांव में एक किराए के आवास में रहते हैं.

टिप्पणियां

अन्य खबरें
CLAT 2019: लॉ एडमिशन टेस्ट के टॉपर से जानिए उनकी सफलता की कहानी
जानिए कैसे कार्तिकेय बने JEE Advanced में नंबर वन


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement