NDTV Khabar

JNU पूर्वोत्तर भारत के अध्ययन के लिए खोलेगा विशेष केंद्र

जेएनयू देश के पूर्वोत्तर क्षेत्र के अध्ययन के लिए यूनिवर्सिटी में एक विशेष केंद्र स्थापित करेगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
JNU पूर्वोत्तर भारत के अध्ययन के लिए खोलेगा विशेष केंद्र

JNU में पूर्वोत्तर भारत के अध्ययन के विशेष केंद्र खोला जाएगा.

खास बातें

  1. जेएनयू पूर्वोत्तर क्षेत्र के अध्ययन के लिए एक विशेष केंद्र स्थापित करेगा.
  2. कुलपति एम. जगदीश कुमार ने विशेष केंद्र स्थापित करने की घोषणा की.
  3. इसमें जेएनयू के अलग-अलग विभागों के सदस्यों को शामिल किया जाएगा.
नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के कुलपति एम. जगदीश कुमार ने कहा कि देश के पूर्वोत्तर क्षेत्र के अध्ययन के लिए यूनिवर्सिटी में एक विशेष केंद्र स्थापित किया जाएगा. एक प्रोफेसर ने बताया कि केंद्र में पढ़ाए जाने वाले पाठ्यक्रम की रूपरेखा तय की जाएगी. जेएनयू के कुलपति ने ट्वीट कर कहा, 'जेएनयू ने पूर्वोत्तर भारत के अध्ययन के लिए विशेष केंद्र स्थापित करने का फैसला किया है. इसमें जेएनयू के अलग-अलग स्कूलों के विभागों के सदस्यों को शामिल किया जाएगा. भारत के पूर्वोत्तर क्षेत्र के विभिन्न पहलुओं का इस विशेष केंद्र में अध्ययन किया जाएगा.'

DU 5th Cut Off 2018: पांचवीं कट ऑफ जारी, 6 हजार सीटों पर होने हैं एडमिशन

एक प्रोफेसर ने कहा कि नए केंद्र में कई विषयों से जुड़ी चीजें शामिल होंगी जिससे पूर्वोत्तर से जुड़े हर तरह के शोध पर विशेष ध्यान दिया जाएगा. उन्होंने कहा, 'स्कूल ऑफ सोशल साइंसेज, स्कूल ऑफ लैंग्वेज, लिटरेचर एंड कल्चरल स्टडीज सहित कई स्कूल इसमें शामिल होंगे.

गलत ब्रांडिंग करने पर हाईकोर्ट ने दिल्‍ली मेट्रो को फटकारा, कहा- बड़े फॉन्‍ट में बताओ FIIT-JEE और IIT दिल्ली के बीच कोई संबंध नहीं

टिप्पणियां
केंद्र यूनिवर्सिटी की प्रतिभा का इस्तेमाल करेगा और इससे अंतरराष्ट्रीय संबंध, भारत की लुक ईस्ट नीति के संदर्भ में पूर्वोत्तर का महत्व बढ़ेगा.' अकादमिक परिषद ने पिछले महीने केंद्र की स्थापना को मंजूरी दी थी और अन्य ब्योरे पर काम किया जा रहा है.

(इनपुट- भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement