NDTV Khabar

Junko Tabei Google Doodle: कौन थीं जुन्को ताबेई? जानिए माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने वाली पहली महिला के बारे में

Mountaineer Junko Tabei: जुन्को ताबेई (Junko Tabei) 76 अलग-अलग देशों में पर्वतों पर पहुंचने वाली एकमात्र महिला बनी थीं. उन्होंने पहली बार माउंट नासू के पास चढ़ाई की. उस समय वह महज 10 साल की थीं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Junko Tabei Google Doodle: कौन थीं जुन्को ताबेई? जानिए माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने वाली पहली महिला के बारे में

Junko Tabei: वह 76 अलग-अलग देशों में पर्वतों पर पहुंचने वाली एकमात्र महिला बनी थीं.

खास बातें

  1. जुन्को ताबेई जापानी पर्वतारोही थीं.
  2. वह माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने वाली पहिला महिला बनीं थीं.
  3. जुन्को साल 1975 में एवरेस्ट पर पहुंची थीं.
नई दिल्ली:

Junko Tabei in Hindi: जुन्को ताबेई (Junko Tabei) के जन्मदिवस के मौके पर गूगल ने डूडल (Junko Tabei Google Doodle) बनाकर उन्हें याद किया है. दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत शिखर माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने वाली पहली महिला जुन्को ताबेई (Junko Tabei) पर बनाया गया गूगल का डूडल बड़ा ही खास है. गूगल डूडल में आप देख सकते हैं कि जुन्को का एनीमेशन बनाया गया है. डूडल में जुन्को माउंट एवरेस्ट पर चढ़ती नजर आ रही हैं. जुन्को साल 1975 में एवरेस्ट पर पहुंची थीं. उस समय उनकी उम्र 35 साल थीं. सफलतापूर्वक शिखर पर चढ़ने के बाद उन्हें जापान के सम्राट, क्राउन प्रिंस और राजकुमारी द्वारा सम्मानित किया गया. वह 76 अलग-अलग देशों में पर्वतों पर पहुंचने वाली एकमात्र महिला बनी थीं. माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने के 12 दिन पहले वो बर्फीले तूफान की चपेट में आ गई थीं. उनके एक गाइड ने उन्हें बर्फ से बाहर निकाला. इसके बाद भी उन्होंने चढ़ाई जारी रखी.

जुन्को का जन्म मिहारू, फुकुशिमा में हुआ था. वह सात बहनों में पांचवे नंबर की थीं. उन्होंने पहली बार माउंट नासू के पास चढ़ाई की. उस समय वह महज 10 साल की थीं. परिवार की स्थिति खराब होने के चलते जुन्को काफी समय तक पर्वतारोहण नहीं कर पाई थीं. उन्होंने मासानोबू ताबेई से शादी की थी, जो एक माउंट क्लाइंबर थे. मासानोबू से जुन्को 1965 में जापान में पर्वतारोहण के समय मिली थीं.

junko tabei, junko tabei google doodle, junko tabei mount everest, junko tabei biographyGoogle Doodle On Junko Tabei

वह 16 मई, 1975 को ऑल फीमेल कलाइंबिंग पार्टी की नेता के तौर पर एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचीं. 1992 में, वह “सेवन समिट्स” को पूरा करने वाली पहली महिला बनीं, जो सात महाद्वीपों की सबसे ऊंची चोटियों पर पहुंची. जुन्को का निधन (Junko Tabei Death) 20 अक्टूबर 2016 को पेट के कैंसर की वजह से हुआ था. वह 77 साल की थीं. कैंसर के इलाज के दौरान भी उन्होंने चढ़ाई जारी रखी थीं.

junko tabei, junko tabei google doodle, junko tabei mount everest, junko tabei biography

टिप्पणियां

मैं और भी पर्वत फतह करना चाहती हूं
एवरेस्ट फतह करने के 16 वर्ष बाद 1991 में उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा था, ''मैं और भी पर्वत फतह करना चाहती हूं.'' उन्होंने यह साहस भरा काम एक ऐसे देश में रहते हुए किया था जहां महिलाओं की जगह घर में मानी जाती थी. 

अन्य खबरें
बी.बी. किंग सड़क पर बजाते थे गिटार, जीते 15 ग्रेमी अवार्ड- गूगल ने बनाया डूडल
जब शाकाहारी सर्वपल्ली राधाकृष्णन की थाली में चीनी नेता ने डाल दिया नॉन-वेज और फिर...



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement