NDTV Khabar

ऑस्ट्रेलिया की ला ट्रोब यूनिवर्सिटी और आईआईटी कानपुर के बीच करार

वर्ष 2018 के मध्य से शुरू होने वाली अंतर्राष्ट्रीय स्नातक और स्नातकोत्तर शिक्षा छात्रों के लिए ला ट्रोब विश्वविद्यालय एक बार फिर कुल शिक्षा शुल्क की 15 से 25 प्रतिशत तक की छात्रवृत्ति प्रदान कर रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ऑस्ट्रेलिया की ला ट्रोब यूनिवर्सिटी और आईआईटी कानपुर के बीच करार
नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया की ला ट्रोब यूनिवर्सिटी और आईआईटी कानपुर के बीच एक करार पर हस्ताक्षकर किया गया, जिसके तहत संयुक्त रूप से पी.एच.डी. करने के अवसर मिलेंगे और साझा शोध को बढ़ावा मिलेगा. ला ट्रोब यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर और प्रेजिडेंट प्रो. जॉन डेवर ने कहा कि इसके तहत सिंथेटिक और मेडिसिनल कैमिस्ट्री दवाओं की खोज एवं आपूर्ति में उपयोग के साथ मटीरियल विज्ञान पॉलीमर और नई बैट्री तकनीक समेत जीव विज्ञान और जीव इंजीनियरिंग, व्यक्तिगत स्वास्थ्य सेवा और जीन एडिटिंग तकनीक पर काम किया जाएगा.

प्रो. डेवर ने इस अवसर पर 500,000 ऑस्ट्रेलियन डॉलर (2.5 करोड़ रुपए) से अधिक की 14 पीएचडी स्कॉलरशिप देने की घोषणा की. ये ला ट्रोब के साझेदार विश्वविद्यालय जेएसएस यूनिवर्सिटी (मैसूर) में भारतीय विद्यार्थियों को पीएचडी करने के लिए दिए जाएंगे. स्कॉलरशिप में विद्यार्थियों को अध्ययन की अवधि में शिक्षा शुल्क और लगभग 25,000 रुपये प्रति माह जीवनयापन भत्ता दिया जाएगा. उन्हें उनकी उम्मीदवारी के दौरान लगभग 6 माह तक मेलबर्न कैम्पस में पढ़ने का अवसर दिया जााएगा जिसका सारा खर्च ला ट्रोब करेगा. प्रोग्राम पूरा करने के बाद विद्यार्थियों को ला ट्रोब डॉक्टरेट की उपाधि देगा.
 
ला ट्रोब और जेएसएस यूनिवर्सिटी वर्तमान में इस साझा पीएचडी प्रोग्राम के लिए दाखिले ले रही हैं. पूरे भारत से उच्च गुणवत्ता के आवेदन आए हैं और वर्तमान में विभिन्न प्रोजेक्ट के लिए विद्यार्थियों के चयन की प्रक्रिया चल रही है.

टिप्पणियां
उन्होंने कहा कि आईआईटी कानपुर से साझा पीएचडी जेएसएस मॉडल से भिन्न होगा. विद्यार्थियों को अपनी उम्मीदवारी के दौरान 70 प्रतिशत समय भारत और 30 प्रतिशत ऑस्ट्रेलिया में शोध अध्ययन पर देना होगा. इसके समापन पर ला ट्रोब और आईआईटी, कानपुर दोनों संयुक्त डिग्री प्रदान करेंगे. ला ट्रोब विद्यार्थियों में आवंटन के लिए बड़ी राशि का योगदान देगी जो उनकी उम्मीदवारी के दौरान जीवनयापन भत्ता के रूप में दिया जाएगा.
  वर्ष 2018 के मध्य से शुरू होने वाली अंतर्राष्ट्रीय स्नातक और स्नातकोत्तर शिक्षा छात्रों के लिए ला ट्रोब विश्वविद्यालय एक बार फिर कुल शिक्षा शुल्क की 15 से 25 प्रतिशत तक की छात्रवृत्ति प्रदान कर रहा है. यह छात्रवृत्तियां प्रतिभा आधारित हैं और छात्रों को उनके पिछले शैक्षिक प्रदर्शन के अनुरूप पहले आओ पहले पाओ के आधार पर दी जाएंगी.

न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस से इनपुट


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement