NDTV Khabar

शहीद दिवस: महात्मा गांधी ने जब ली थी आखिरी सांस, जानिए 30 जनवरी की शाम हुआ क्या था

Mahatma Gandhi Death Anniversary के मौके पर हम गांधी जी के साथ-साथ उन महापुरुषों को भी याद करते हैं जिन्होंने देश को आजाद कराने के लिए अपना बलिदान दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शहीद दिवस: महात्मा गांधी ने जब ली थी आखिरी सांस, जानिए 30 जनवरी की शाम हुआ क्या था

राजघाट की फाइल फोटो

खास बातें

  1. हर साल 30 जनवरी को मनाया जाता है शहीद दिवस
  2. 1948 को हुई थी इसी दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या
  3. इस मौके पर देश भर में आयोजित होती है श्रद्धांजलि सभाएं
नई दिल्ली: शहीद दिवस के मौक पर हम देश के लिए अपनी जान गवांने वाले शहीदों को याद करते हैं. साथ ही इस मौके पर हम उन महापुरुषों को भी याद करते हैं जिन्होंने देश को आजाद कराने के लिए अपना बलिदान दिया. हम हर साल अलग-अलग दिन पर शहीद दिवस मनाते हैं. इन्हीं में से एक दिन 30 जनवरी भी है. इस तारीख को ही राष्ट्रपति महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. हर साल हम इस मौक पर महात्मा गांधी के साथ-साथ देश के लिए अपना बलिदान देने वाले अन्य शहीदों को भी याद करते हैं. 

यह भी पढ़ें: गणतंत्र दिवस पर BSF ने पाकिस्तानी रेंजर्स के साथ मिठाई के आदान-प्रदान से किया इनकार

30 जनवरी को क्यों मनाया जाता है शहीद दिवस?
शहीद दिवस के रूप में यह तारीख सबसे खास है. इस दिन वर्ष 1948 में नाथुराम गोडसे ने महात्मा गांधी की हत्या कर दी  थी. इसके बाद से ही हम हर साल 30 जनवरी को महात्मा गांधी को याद करते हैं. इस मौके पर विशेष श्रद्धांजलि सभा का भी आयोजन किया जाता है. 

कैसे मनाया जाता है शहीद दिवस
हर साल इस दिन राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री और तीनों सेना के प्रमुख राजघाट स्थित महात्मा गांधी की समाधि पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं. साथ ही सेना के जवान इस मौके पर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देते हुए उनके सम्मान में अपने हथियार को नीचे छुकाते हैं. इस मौके पर पूरे देश में महात्मा गांधी समेत अन्य शहीदों की याद में दो मिनट का मौन रखा जाता है. इस दौरान विशेष तौर पर सभी धर्म के लोग प्राथना का भी आयोजन कराते हैं. 

यह भी पढ़ें: शहीदों को आज दी जाएगी श्रद्धांजलि

30 जनवरी के अलावा भी देश में इन तारीखों को मनाया जाता है शहीद दिवस. इस दिन भी हम अपने शहीदों और महापुरुषों को याद करते हैं और उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं. आइये जानते हैं कौन सी हैं वे तारीखें...

23 मार्च 
इस दिन को भी हम शहीद दिवस के तौर पर मनाते हैं. खास बात यह है कि इस दिन भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरू को 1931 में फांसी दी गई थी. 

टिप्पणियां
VIDEO: शहीद कमांडो को मिला अशोक चक्र


17 नवंबर
इस तारीख को हम शहीदों को याद करने के साथ-साथ आजादी की लड़ाई में बड़ी भूमिका निभाने वाले लाला लाजपत राय को भी याद करते हैं. लाला लाजपत राय की इसी दिन 1928 में मौत हो गई थी. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement