NDTV Khabar

लगातार दूसरे साल डीयू के विधि संकाय में बड़ी संख्या में विद्यार्थी फेल 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लगातार दूसरे साल डीयू के विधि संकाय में बड़ी संख्या में विद्यार्थी फेल 

प्रतीकात्मक तस्वीर

लगातार दूसरे साल दिल्ली विश्वविद्यालय के विधि संकाय के प्रथम वर्ष के करीब आधे विद्यार्थी कम से कम एक विषय में फेल हो गए।

परिणाम में गड़बड़ी का आरोप
विद्यार्थियों ने इसका विरोध करते हुए आरोप लगाया कि जो परीक्षा परिणाम घोषित किया गया उसमें कुछ गड़बड़ी है क्योंकि कुछ विद्यार्थी परीक्षा में शामिल होने के बाद भी अनुपस्थित घोषित किए गए, जबकि कुछ अन्य के प्राप्तांकों में बाद में संशोधन किया गया।

विधि संकाय के तीन केंद्र- लॉ सेंटर । (एलसी 1), कैंपस लॉ सेंटर (सीएलसी) और लॉ सेंटर ।। (एलसी ।।) हैं। सीएलसी प्रवेश परीक्षा में सबसे अधिक अंक लाने वालों को दाखिला देता है।

विधि संकाय के 1944 विद्यार्थियों में से कुल 882 छात्र सेमेस्टर परीक्षा में कम से कम एक विषय में फेल हो गए हैं।

पढ़ें: CAT 2016: IIM में दाखिला दिलाने वाली परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू

टिप्पणियां
प्रथम वर्ष की छात्रा रूचिका भट ने कहा, ‘परिणाम में कुछ गड़बड़ लगती है क्योंकि मैं जिस विषय में फेल हुई, उस विषय में मुझे अच्छे नंबर आने की उम्मीद थी। मैं उत्तर पुस्तिका की दोबारा जांच के लिए आवेदन करूंगी। ’ एक अन्य छात्रा रितिका ठाकुर ने कहा, ‘मैं नतीजा देखकर चकित हूं, जरूर कुछ न कुछ समस्या तो है। मैं दोबारा जांच कराउंगी और पता करूंगी कि कहां गड़बड़ी हुई। ’ वैसे विधि संकाय के डीन एस सी रैना ने किसी गलती से इनकार किया और कहा कि विद्यार्थियों के प्रदर्शन का सही मूल्यांकन किया गया है।

इस बीच विधि संकाय में प्रवेश के इच्छुक छात्र भी दाखिला काउंसलिंग में देरी पर नाराज दिखे।
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement