हरियाणा में मेडिकल स्‍टूडेंट के लिए नया नियम, एडमिशन के वक्‍त भरने होंगे 5 लाख से 7.5 लाख रुपये तक के बॉन्‍ड

ग्रेजुएशन का कोर्स शुरू होने के पहले स्‍टूडेंट को पांच लाख रुपये का बॉन्‍ड भरना होगा. अगर स्‍टूडेंट कोर्स पूरा होने से पहले बीच में ही पढ़ाई छोड़ते हैं तो उन्हें बांड में भरी गई राशि अदा करनी होगी.

हरियाणा में मेडिकल स्‍टूडेंट के लिए नया नियम, एडमिशन के वक्‍त भरने होंगे 5 लाख से 7.5 लाख रुपये तक के बॉन्‍ड

हरियाणा के मेडिकल स्‍टूडेंट्स को अब बॉन्‍ड भरने होंगे

खास बातें

  • एमबीबीएस और बीडीएस के स्‍टूडेंट को बॉन्‍ड भरने होंगे
  • कोर्स बीच में छोड़ने पर पैसे भरने होंगे
  • यह नियम हरियाणा के मेडिकल स्‍टूडेंट्स के लिए है
चंडीगढ़:

हरियाणा सरकार ने मेडिकल और डेंटल कॉलेजों में 2018-19 सत्र से एडमिशन के लिए नई नीति जारी की है. इसके तहत MBBS/BDS और पीजी कोर्स में एडमिशन लेते वक्त स्‍टूडेंट्स को बॉन्‍ड भरने होंगे. ताकि दाखिला के बाद वे कोर्स बीच में नहीं छोड़ सकें. 

ये हैं MBBS टॉपर एलिजा बंसल, कार्डियोलॉजिस्‍ट बनकर करना चाहती हैं ये काम
 
मेडिकल एजुकेशन और रिसर्च डिपार्टमेंट के एक प्रवक्ता के मुताबिक ग्रेजुएशन का कोर्स शुरू होने के पहले स्‍टूडेंट को पांच लाख रुपये का बॉन्‍ड भरना होगा. अगर स्‍टूडेंट कोर्स पूरा होने से पहले बीच में ही पढ़ाई छोड़ते हैं तो उन्हें बांड में भरी गई राशि अदा करनी होगी.
 
इसी तरह जो स्‍टूडेंट MD/MS कोर्स में एडमिशन लेना चाहते हैं उन्‍हें साढ़े सात लाख रुपये के बॉन्‍ड भरने होंगे.

बिहार, झारखंड और यूपी के मेडिकल कालेजों को मिली MBBS में दाख़िले की इजाजत
 
डिफॉल्टर से बॉन्‍ड की रकम प्रक्रिया के तहत वसूलने का अधिकार संस्थान के पास सुरक्षित होगा. यह नियम प्रबंधन कोटे के तहत दाखिला लेने वाले स्‍टूडेंट्स पर भी लागू होगा. पिछले हफ्ते अधिसूचित नीति के मुताबिक बॉन्‍ड एडमिशन के वक्त भरना होगा.

प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश सरकार की अधिसूचना सरकारी, सरकारी अनुदान प्राप्त, निजी मेडिकल संस्थानों और डेंटल कॉलेज में MBBS/BDS में एडमिशन के लिए है.

मेडिकल कॉलेज ने नहीं दिया था एडमिशन, अब 19 स्टूडेंट्स को देने होंगे 20-20 लाख रुपये

Newsbeep

इसके अलावा अगर मेडिकल का स्‍टूडेंट पीजी कोर्स बीच में छोड़ देता है तो वह अगले तीन साल तक किसी भी मेडिकल या डेंटल कॉलेज के पीजी कोर्स में एडमिशन नहीं ले पाएगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: मेडिकल कॉलेजों की मनमानी कब खत्म होगी?