NDTV Khabar

पिता चौकीदार और मां करती थी मजदूरी, हेल्पर का काम करके खुद निकाला पढ़ाई का खर्च, 10वीं की परीक्षा में मिले 500 में 499 नंबर

MP Board 10th Result 2019: मध्य प्रदेश के सागर में एक बारातघर की चौकीदारी करने वाले शख्स के बेटे ने हाईस्कूल की परीक्षा में टॉप किया है. टॉप करने वाले छात्र का नाम आयुष्मान ताम्रकार है और उनके पिता चौकीदारी करते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पिता चौकीदार और मां करती थी मजदूरी, हेल्पर का काम करके खुद निकाला पढ़ाई का खर्च, 10वीं की परीक्षा में मिले 500 में 499 नंबर

खास बातें

  1. पिता चौकीदार और मां करती थी मजदूरी
  2. हेल्पर का काम करके खुद निकाला पढ़ाई का खर्च
  3. बहन ने भी 10वीं की परीक्षा में पाए 92 फीसदी नंबर
सागर:

मध्य प्रदेश के सागर में एक बारातघर की चौकीदारी करने वाले शख्स के बेटे ने एमपी हाईस्कूल की परीक्षा (MP Board 10th Result 2019) में टॉप किया है. टॉप करने वाले छात्र का नाम आयुष्मान ताम्रकार है और उनके पिता चौकीदारी करते हैं. आयुष्मान ने परीक्षा में गगन त्रिपाठी के साथ संयुक्त रूप से पहला स्थान पाया है. आयुष्मान शासकीय बहुउद्देशीय उत्कृष्ट विद्यालय के छात्र हैं और उन्हें 500 में से 499 नंबर मिले हैं. आयुष्मान के परिवार में सभी लोग आर्थिक संकट से गुजर रहे हैं. उनके पिता की आय का केवल एक ही जरिया है और वह है चौकीदारी. आयुष्मान की मां भी मजदूरी करके घर के खर्चों में हाथ बंटाती हैं. आयुष्मान ने अपनी सफलता का श्रेय अपने टीचर्स और माता-पिता को दिया है. उन्होंने कहा, 'मैं सोशल मीडिया से दूर हूं. सोशल मीडिया पर तो कभी भी जा सकते हैं, लेकिन पढ़ाई का लक्ष्य पूरा नहीं हो सकता है, इसलिए मैंने पढ़ाई को प्राथमिकता दी है.' आयुष्मान आगे चलकर इंजीनियर बनना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें: NTA NET Admit Card 2019: एनटीए अब 27 मई को जारी करेगा नेट एडमिट कार्ड, ऐसे कर पाएंगे डाउनलोड


बुधवार को जब आयुष्मान का रिजल्ट आया तो उनके पिता ड्यूटी पर थे. जैसे ही पिता को अपने बेटे की कामयाबी के बारे में पता लगा तो वह खुशी से उछल पड़े. परिवार के लिए यह इसलिए भी दोगुनी खुशी का मौका है क्योंकि आयुष्मान के साथ ही उसकी बहन आयुशी ने भी 10वीं की परीक्षा में 92 फीसदी नंबर पाए हैं. आयुष्मान की मां का कहना है कि उनका बेटा बड़ा इंजीनियर बनें, यही इच्छा है लेकिन उन्हें इसी बात की चिंता है कि आयुष्मान की आगे की पढ़ाई के लिए पैसा कहां से आएगा. आयुष्मान दूसरों की दुकान पर बैठकर अपना खर्च निकालता है.   

ये भी पढ़ें:​ JAC 10th Result 2019: किसी भी दिन आ सकता है झारखंड Matric रिज़ल्ट, देख लें Check करने का सही तरीका

टिप्पणियां

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश बोर्ड के 10वीं और 12वीं के परिणाम बुधवार को घोषित कर दिए गए. 12वीं में 72.37 प्रतिशत और 10वीं में 61.32 प्रतिशत विद्यार्थी सफल हुए हैं. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विद्यार्थियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं. (इनपुट: आईएएनएस)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement