मध्य प्रदेश सरकार ने NIFT के छात्रों को मृगनयनी एम्पोरियम से जोड़ने का लिया फैसला

NIFT संस्थान के विद्यार्थियों द्वारा बुनकरों के लिये विकसित डिजाइन उपभोक्ताओं को पसंद आने पर विद्यार्थियों को रायल्टी दी जाएगी.

मध्य प्रदेश सरकार ने NIFT के छात्रों को मृगनयनी एम्पोरियम से जोड़ने का लिया फैसला

मध्यप्रदेश सरकार ने NIFT छात्रों को अपने मृगनयनी एम्पोरियम से जोड़ने का फैसला लिया है.

खास बातें

  • कुटीर, बुनकर एवं हस्तकला उद्योग को बढ़ावा
  • NIFT छात्रों को रॉयल्टी भी दी जाएगी.
  • मृगनयनी ब्रांड के उत्पादों की बिक्री देश-विदेश में की जाती है
भोपाल:

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नॉलाजी (National Institute Of Fashion Technology) के डिजाइनिंग के स्टूडेंट्स  को मंच उपलब्ध कराने के उद्देश्य से मध्यप्रदेश सरकार (Madhya Pradesh Govt.) ने इस संस्थान के छात्रों को अपने मृगनयनी एम्पोरियम से जोड़ने का फैसला लिया है. मध्यप्रदेश सरकार के ‘‘मृगनयनी ब्रांड एम्पोरियम'' से प्रदेश के कुटीर, बुनकर एवं हस्तकला उद्योग के विभिन्न उत्पादों की बिक्री देश-विदेश में स्थित अनेक शो रुम से की जाती है.

यह भी पढ़ें- एमपी में बढ़ती ठंड को ध्यान में रखते हुए स्कूलों के समय बदले

प्रदेश सरकार ने मंगलवार को बताया,‘‘निफ्ट संस्थान के विद्यार्थियों द्वारा बुनकरों के लिये विकसित डिजाइन उपभोक्ताओं को पसंद आने पर विद्यार्थियों को रायल्टी दी जाएगी.'' प्रदेश के बुनकरों और शिल्पियों के उत्पादों को जन-जन तक पहुँचाने के लिये हाल ही में होशंगाबाद एवं बैतूल में मृगनयनी के नये विक्रय केन्द्र खोले गये हैं.

इसके अलावा प्रदेश के बाहर हैदराबाद और एकता मॉल केवड़िया (गुजरात) तथा रायपुर में मृगनयनी के नये शो रूम खोले गये हैं. प्रदेश के हस्तशिल्प एवं हाथकरघा को व्यापक बाजार मुहैया कराने के लिये अन्य राज्यों के साथ करार किये गये हैं.

हस्तशिल्पियों और बुनकरों को रोजगार और तुरंत मार्केट सुविधा उपलब्ध कराने के लिये गौहर महल भोपाल, अर्बन हाट इंदौर और शिल्प बाजार ग्वालियर में नई गतिविधियाँ शुरू की गई हैं. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com