NDTV Khabar

NDTV Exclusive : अब यूजीसी नहीं एनटीए जारी करेगा NET-JRF का सर्टिफिकेट, एक महीने के अंदर...

एनडीटीवी से बातचीत में NTA के महानिदेशक विनीत जोशी ने कहा, यूजीसी ने हमसे सर्टिफिकेट भी जारी करने को कहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
NDTV Exclusive : अब यूजीसी नहीं एनटीए जारी करेगा NET-JRF का सर्टिफिकेट, एक महीने के अंदर...

अब UGC नहीं बल्कि NTA जारी करेगा NET-JRF का सर्टिफिकेट.

नई दिल्ली:

नेट-जेआरएफ (NET-JRF) का सर्टिफिकेट अब UGC नहीं बल्कि NTA (नेशनल टेस्टिंग एजेंसी) जारी करेगा. अभी तक एनटीए सिर्फ नेट की परीक्षा (NET Exam) आयोजित कर रहा था, जबकि नेट-जेआरएफ उत्तीर्ण करने वाले अभ्यर्थियों को यूजीसी सर्टिफिकेट (UGC Certificate) जारी करता था. लेकिन हाल ही में यूजीसी ने NTA को पत्र लिखकर परीक्षा आयोजित करने के साथ-साथ उन्हीं से इसका सर्टिफिकेट भी जारी करने को कहा है. एनटीए ने इसकी तैयारियां भी शुरू कर दी हैं. एनडीटीवी से बातचीत में NTA के महानिदेशक विनीत जोशी ने कहा, 'यूजीसी ने हमसे सर्टिफिकेट भी जारी करने को कहा है. चूंकि हम पहले सिर्फ परीक्षा ही कराते रहे हैं, इसलिए सर्टिफिकेट जारी करने की प्रक्रिया और फॉर्मेट आदि से अवगत नहीं हैं. इस बारे में यूजीसी के अधिकारियों के साथ जल्द ही एक मीटिंग होनी है. एक हफ्ते के अंदर पूरा खाका तैयार कर लिया जाएगा और सर्टिफिकेट प्रिंट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी.'

टिप्पणियां

1 महीने के अंदर सर्टिफिकेट मिलने की संभावना : 
यूजीसी के फैसले के बाद अब जिन अभ्यर्थियों ने जून 2019 में नेट-जेआरएफ की परीक्षा उत्तीर्ण की है, उन्हें सर्टिफिकेट NTA जारी करेगा. NTA के महानिदेशक विनीत जोशी ने कहा, 'हम 1 सप्ताह में सर्टिफिकेट तैयार करने की प्रक्रिया शुरू कर देंगे और 1 महीने के अंदर अभ्यर्थियों को सर्टिफिकेट जारी करने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी.' आपको बता दें कि जेआरएफ की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले अभ्यर्थियों को सर्टिफिकेट मिलने के बाद ही फेलोशिप की सुविधा मिलती है. NTA ने जून 2019 में हुई नेट की परीक्षा का रिजल्ट 13 जुलाई को जारी कर दिया था. ऐसे में अभ्यर्थी पिछले 2 महीने से सर्टिफिकेट का इंतजार कर रहे हैं. 


60 हजार अभ्यर्थी जून में हुए थे सफल :
NTA के मुताबिक जून 2019 में हुई नेट की परीक्षा में 60 हजार से ज्यादा अभ्यर्थी नेट जेआरएफ की परीक्षा उत्तीर्ण करने में सफल रहे हैं. इसमें 4500 के आसपास ऐसे अभ्यर्थी हैं जिन्होंने जेआरएफ भी हासिल किया है. गौरतलब है कि नेट यानी  राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (UGC NET) यह निर्धारित करने के लिए आयोजित की जाती है कि क्या उम्मीदवार सहायक प्रोफेसर/जूनियर रिसर्च फेलो बनने लायक है या नहीं. नेट की परीक्षा का आयोजन देशभर में 84 भाषाओं में किया जाता है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement