NDTV Khabar

NEET 2017: आंसर-की को चुनौती देने की प्रक्रिया पूरी, अब जल्‍द आ सकते हैं नतीजे

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद, सीबीएसई ने 12 जून 2017 को NEET परिणाम घोषित करने की प्रक्रिया शुरू की है. उम्मीदवारों को लम्‍बा इंतजार कराने के बाद बोर्ड ने आंसर-की को चुनौती देने की प्रक्रिया अब पूरी कर ली है.

10 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
NEET 2017: आंसर-की को चुनौती देने की प्रक्रिया पूरी, अब जल्‍द आ सकते हैं नतीजे

NEET 2017: आंसर-की को चुनौती देने की प्रक्रिया पूरी

नयी दिल्‍ली: राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा यानि नीट की आंसर-की को चुनौती देने का समय अब पूरा हो चुका है. बोर्ड अब जल्‍द ही फाइनल आंसर-की और नीट के रिजल्‍ट जारी कर सकता है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद, सीबीएसई ने 12 जून 2017 को एनईईटी परिणाम घोषित करने की प्रक्रिया शुरू की है. उम्मीदवारों को लम्‍बा इंतजार कराने के बाद बोर्ड ने आंसर-की को चुनौती देने की प्रक्रिया अब पूरी कर ली है.

सीबीएसई ने 7 मई को आयोजित इस परीक्षा के लिए आंसर-की जारी की थी और बोर्ड द्वारा 16 जून तक चुनौतियों को स्वीकार किया गया था. ऐसे में उम्‍मीद की जा रही है कि बोर्ड जल्‍द ही नीट 2017 के परिणाम जारी कर सकता है.

क्या है पूरा मामला ?
इस साल नीट की परीक्षा हिंदी और इंग्लिश के अलावा आठ अन्‍य भाषाओं में ली गई थी. मद्रास हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल कर यह बात कही गई थी कि स्थानीय भाषाओं में पूछे गए सवाल अंग्रेजी भाषा में पूछे गए सवालों के मुकाबले आसान थे. वहीं गुजरात हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल कर कहा गया था कि गुजराती में पूछे गए सवाल अंग्रेजी के मुकाबले कठिन थे. गुजरात में नीट मामले पर सुनवाई की गई थी. वहीं सीबीएसई ने इस मामले में कहा था कि सभी पेपरों को मॉडरेटरों ने तय करके एक ही लेवल का निकाला था. बोर्ड का कहना है कि सभी भाषा में पेपर का डिफिकल्टी लेवल एक जैसा ही था. 



 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement