NDTV Khabar

NEET 2017: जारी की गई ओएमआर शीट, हर सवाल की चुनौती के लिए देने होंगे हजार रुपये

सीबीएसई के एक अधिकारी ने बताया कि नीट वेबसाइट पर लॉग इन करने के बाद स्‍टूडेंट्स ओएमआर शीट देखने के बाद गलत प्रश्नों पर ओएमआर शीट को चुनौती दे सकते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
NEET 2017: जारी की गई ओएमआर शीट, हर सवाल की चुनौती के लिए देने होंगे हजार रुपये

केंद्रीय माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) को सोमवार को सुप्रीम कोर्ट से राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा यानि नीट के नतीजे घोषित करने की अनुमति मिलने के बाद बोर्ड ने इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी है. बोर्ड ने नीट-2017 की ओएमआर शीट जारी कर दी है. जिन उम्मीदवारों ने 7 मई को एनईईटी यूजी 2017 के लिए आवेदन किया था, वे अब अपने ओएमआर उत्तर पत्रकों और उत्तरों को चिह्नित प्रश्नों की जांच कर सकते हैं।

टिप्पणियां

NEET Result 2017: कैसे चेक करें ओएमआर शीट
- स्‍टूडेंट्स को ओएमआर शीट देखने के लिए नीट की ऑफिशयल वेबसाइट पर जाएं.
- अपने रजिस्‍ट्रेशन नंबर और पासवर्ड के साथ लॉग इन करें.
- इसके बाद NEET 2017 OMR Sheet पर क्‍लिक करें.
- इसके बाद ओएमआर शीट आपके सामने होगी.


NEET Result 2017: दे सकते हैं सवाल को चुनौती
सीबीएसई के एक अधिकारी ने बताया कि नीट वेबसाइट पर लॉग इन करने के बाद स्‍टूडेंट्स ओएमआर शीट देखने के बाद गलत प्रश्नों पर ओएमआर शीट को चुनौती दे सकते हैं. चुनौती देने के लिए उनको हर सवाल पर एक हजार रुपये का भुगतान करना होगा. सीबीएसई अगर विद्यार्थियों की चुनौती स्वीकार करता है तो भुगतान किया गया शुल्क वापस किया जाएगा.
मेडिकल में एडमिशन के लिए होता है नीट का आयोजन
नीट का आयोजन मेडिकल और डेंटल कॉलेज में एमबीबीएस और बीडीएस कोर्सेस में प्रवेश के लिए किया जाता है. इस परीक्षा के द्वारा उन कॉलेजों में प्रवेश मिलता है, जो मेडिकल कांउसिल ऑफ इंडिया और डेटल कांउसिल ऑफ इंडिया के द्वारा संचालित किया जाता है.

एमबीबीएस की 65 हजार और बीडीएस की 25 हजार सीटों के लिए रेस 
देशभर की 65 हजार एमबीबीएस और 25 हजार बीडीएस सीटों के लिए 7 मई 2017 को देश के 103 शहरों के 1921 केंद्रों पर परीक्षा का आयोजन किया गया था. इस साल नीट का एग्‍जाम हिंदी और अंग्रेजी के अलावा अन्‍य आठ भाषाओं में हुआ था. परीक्षा में कुल 11 लाख 38 हजार 890 छात्रों ने हिस्सा लिया था, जिनमें 1522 एनआरआई और 613 विदेशी छात्र भी शामिल हुए थे.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement