NDTV Khabar

NEET UG 2017: एग्‍जाम से पहले नीट के बारे में जानें ये 10 जरूरी बातें

44 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
NEET UG 2017: एग्‍जाम से पहले नीट के बारे में जानें ये 10 जरूरी बातें
नई दिल्‍ली: मेडिकल और डेंटल कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित की जाने वाली प्रवेश परीक्षा नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट यानि नीट 2017 की परीक्षा का आयोजन इस साल कुल 103 शहरों में किया जा रहा है. नीट को पिछले साल मेडिकल और डेंटल कोर्स में दाखिले के लिए नेशनल लेवर एग्‍जाम के रूप में शुरू किया गया था. इसको शुरू करने के पीछे सबसे बड़ा मकसद यह था कि स्‍टूडेंट्स को एग्‍जाम के स्‍ट्रेस से दूर किया जाए और उन्‍हें एडमिशन के लिए सिर्फ एक एग्‍जाम देना पड़े. एग्‍जाम से पहले हम स्‍टूडेंट्स के लिए ऐसे दस प्‍वाइंट लेकर आएं हैं जो उनके लिए जानना बेहद जरूरी है.

नीट के बारे में जानें ये 10 जरूरी बातें
1. इस साल नीट का आयोजन 7 मई 2017 को आयोजित किया जाएगा.

2. ऑफिशियल नोटिफिकेशन के अनुसार इस साल नीट का रिजल्‍ट 8 जून 2017 को जारी किया जाएगा.

3. एग्‍जाम के लिए स्‍टूडेंट्स को तीन घंटे का समय मिलता है और यह लिखित परीक्षा है.

4. स्‍टूडेंट्स को परीक्षा केंद्र पर पेन ले जाने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि यह एग्‍जाम हॉल में बोर्ड द्वारा दिया जाएगा.

5. एग्‍जाम हॉल में स्‍टूडेंट्स को पासपोर्ट साइज कलर फोटो के साथ एडमिट कार्ड ले जाना अनिवार्य है. इसके साथ प्रोफॉर्मा पर पोस्‍टकार्ड साइज फोटो भी चिपकाकर ले जाना होगा.
6. नीट यूजी 2017 का रिजल्‍ट आने के बाद 15 प्रतिशत ऑल इंडिया कोटा और राज्‍यों के लिए काउंसलिंग शुरू होगी.

7. 15 प्रतिशत ऑल इंडिया कोटा के लिए सेंट्रलाइज काउंसलिंग का आयोजन मेडिकल काउन्सलिंग कमेटी द्वारा किया जाएगा. इसके अलावा बाकी बची सीटों के लिए राज्‍य सरकारों द्वारा अलग-अलग काउंसलिंग का आयोजन किया जाता है.

8. इस साल इंग्‍लिश के अलावा नीट एग्‍जाम का आयोजन अन्‍य नौ भारतीय भाषाओं में किया जाएगा. इनमें हिंदी, अंग्रेजी, असमी, बांग्ला, गुजराती, मराठी, कन्‍न्‍ड़, ओड़ियाए तमिल और तेलुगू शामिल है.

9. नीट के क्‍वेशचन पेपर में ऑब्‍जेक्‍टिव टाइप के 180 सवाल पूछे जाएंगे.

10. एग्‍जाम में सबसे ज्‍यादा बायोलॉजी सेक्‍शन से सवाल पूछे जाते हैं. इस सेक्‍शन में जूलॉजी और बॉटनी से 45 सवाल होते हैं.
इस बार 41 प्रतिशत अधिक छात्र होंगे शामिल
इस साल प्रवेश परीक्षा के लिए 11.35 लाख अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया है, जो पिछले साल के मुकाबले 41 प्रतिशत अधिक है. साल 2016 में 8.02 लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन किया था.
मेडिकल में एडमिशन के लिए होता है नीट का आयोजन
नीट का आयोजन मेडिकल और डेंटल कॉलेज में एमबीबीएस और बीडीएस कोर्सेस में प्रवेश के लिए किया जाता है. इस परीक्षा के द्वारा उन कॉलेजों में प्रवेश मिलता है, जो मेडिकल कांउसिल ऑफ इंडिया और डेटल कांउसिल ऑफ इंडिया के द्वारा संचालित किया जाता है.

एजुकेशन से जुड़ी और खबरों के लिए यहां क्लिक करें


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement