अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में चौथे दिन भी नहीं हो सकी परीक्षाएं

लगातार चौथे दिन आज भी एएमयू में कोई परीक्षा नहीं हो सकी. कुलपति ने हालांकि बुधवार को अपील की थी कि छात्र परीक्षाओं का बहिष्कार खत्म कर दें और वे संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ शांतिपूर्ण प्रदर्शन जारी रख सकते हैं.

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में चौथे दिन भी नहीं हो सकी परीक्षाएं

महिला कॉलेज में उच्च माध्यमिक स्कूल की छात्राओं ने शिक्षकों को कॉलेज परिसर में आने से रोक दिया.

नई दिल्ली:

जाकिर हुसैन कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के प्रदर्शनकारी छात्रों और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) प्रशासन के बीच गुरूवार की सुबह गतिरोध कुछ सामान्य होता दिखा. एएमयू प्रवक्ता उमर पीरजादा ने बताया कि इंजीनियरिंग कॉलेज के प्रधानाध्यापक सूफियां बेग ने छात्रों को कल एक बैठक में आश्वासन दिया था कि उनकी मांगों पर सकारात्मक रूप से विचार किया जाएगा. गतिरोध के बाद आज पहली बार कुछ कक्षाएं चलीं. बेग ने भाषा को बताया कि विश्वविद्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आज हुई बैठक के बाद वह आश्वस्त हैं.

एएमयू प्रशासन और इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों के बीच कल उस समय स्थिति बिगड़ गयी, जब विश्वविद्यालय के कुलपति के साथ बातचीत के दौरान नारेबाजी होने लगी. लगातार चौथे दिन आज भी एएमयू में कोई परीक्षा नहीं हो सकी. कुलपति ने हालांकि बुधवार को अपील की थी कि छात्र परीक्षाओं का बहिष्कार खत्म कर दें और वे संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ शांतिपूर्ण प्रदर्शन जारी रख सकते हैं.

महिला कॉलेज में उच्च माध्यमिक स्कूल की छात्राओं ने शिक्षकों को कॉलेज परिसर में आने से रोक दिया. इस दौरान उन्होंने नारेबाजी भी की. इस बीच एएमयू छात्र समन्वय समिति ने गुरूवार को ही ऐलान किया कि भले ही प्रशासन विश्वविद्यालय बंद करने का आदेश दे दे लेकिन जब तक उनकी चिन्ताओं का समाधान नहीं हो जाता, वे विश्वविद्यालय परिसर से नहीं जाएंगे .



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com