अब स्कूली पाठ्यक्रम का हिस्सा होगा सेल्फ डिफेंस, महाराष्ट्र के सभी बच्चों को मिलेगी ट्रेनिंग

महाराष्ट्र के शोहदों को अब सावधान हो जाना होगा, क्योंकि अब राज्य में स्कूल जाने वाला हर बच्चा आत्मरक्षा, यानी सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग हासिल करेगा.

अब स्कूली पाठ्यक्रम का हिस्सा होगा सेल्फ डिफेंस, महाराष्ट्र के सभी बच्चों को मिलेगी ट्रेनिंग

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के शोहदों को अब सावधान हो जाना होगा, क्योंकि अब राज्य में स्कूल जाने वाला हर बच्चा आत्मरक्षा, यानी सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग हासिल करेगा. दरअसल, महाराष्ट्र सरकार राज्य के सभी विद्यालयों में आत्मरक्षा (सेल्फ डिफेंस) को पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाने पर विचार कर रही है. महाराष्ट्र के शिक्षामंत्री विनोद तावड़े ने पुणे की आत्मरक्षा प्रशिक्षक (सेल्फ डिफेंस ट्रेनर) नेहा श्रीमल की ऑनलाइन याचिका पर जवाब देते हुए यह आश्वासन दिया है. Change.org पर सितंबर, 2018 में दायर की गई याचिका में सात साल की बच्ची की मां नेहा श्रीमल ने मांग की थी कि राज्य के सभी विद्यालयों में आत्मरक्षा के प्रशिक्षण को अनिवार्य किया जाना चाहिए.

याचिका के समर्थन में 1,38,000 से ज़्यादा लोगों ने दस्तखत किए थे. नेहा श्रीमल ने अपनी ऑनलाइन याचिका में पश्चिम बंगाल की उस 18-वर्षीय युवती का उदाहरण दिया था, जिसने वीरभूम जिले में उसका उत्पीड़न करने वाले तीन व्यक्तियों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया था.

नेहा श्रीमल ने याचिका में कहा, "इस बहादुर छात्रा ने दिखाया कि लड़कियों को बिना डरे पूरे आत्मविश्वास के साथ इस तरह के हालात का सामना करने के लिए सशक्त बनाया जा सकता है..."

(इनपुट भाषा से भी)

अन्य खबरें
ICAI CA Exam 2019: मई में होगी फाउंडेशन, इंटरमीडिएट और फाइनल कोर्स की परीक्षाएं, जानिए पूरा शेड्यूल
IGNOU December Result: जारी हुआ परीक्षा का रिजल्ट, इस डायरेक्ट लिंक से करें चेक

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: समय पर भर्ती परीक्षाएं पूरी क्यों नहीं होतीं?