NEET, JEE Main Exam के लिए दोबारा खोली गई करेक्शन विंडो, इस दिन तक कर सकते हैं फॉर्म एडिट

Coronavirus: कोरोनावायरस महामारी के चलते कुछ उम्मीदवार अपने एप्लीकेशन फॉर्म एडिट नहीं कर पाए थे. एनटीए ने उम्मीदवारों को फॉर्म में सुधार करने का दूसरा मौका दिया है.

NEET, JEE Main Exam के लिए दोबारा खोली गई करेक्शन विंडो, इस दिन तक कर सकते हैं फॉर्म एडिट

नीट और जईई मेन एग्जाम के लिए करेक्शन विंडो दूबारा खोल दी गई है.

खास बातें

  • नीट और जईई मेन एग्जाम के लिए करेक्शन विंडो दूबारा खोल दी गई है.
  • दोनों एग्जाम मई के आखिर में आयोजिति किए जाएंगे.
  • कोरोनावायरस के चलते एग्जाम पोस्टपोन करने पड़े थे.
नई दिल्ली:

Coronavirus: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने जेईई मेन (JEE Main exam) और नीट परीक्षा (NEET exam) के एप्लीकेशन फॉर्म में सुधार करने के लिए करेक्शन विंडो (Application Correction Window Reopened) दोबारा से खोल दी है. जिन उम्मीदवारों के फॉर्म में कोई गलती हो गई है तो वे अपने फॉर्म को एडिट कर सकते हैं. उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट jeemain.nta.nic.in  और ntaneet.nic पर जाकर अपने फॉर्म को एडिट कर सकते हैं.  बता दें कि कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के चलते एनटीए (NTA) ने अप्रैल में होने वाला जेईई मेन एग्जाम और मई में होने वाला नीट एग्जाम पोस्टपोन कर दिया है. अब ये दोनों एग्जाम मई के आखिरी हफ्ते में आयोजित किए जाएंगे. 

नीट एप्लीकेशन फॉर्म के बारे में जारी स्टेटमेंट के मुताबिक, "कोविड 19 (Covid-19) के कारण कुछ उम्मीदवारों को नीट यूजी 2020 एप्लीकेशन फॉर्म में करेक्शन करने में कुछ दिक्कतें आ रही थीं, जिसे ध्यान में रखकर एनटीए ने नीट यूजी के उम्मीदवारों को एप्लीकेशन फॉर्म में सुधार करने का एक और मौका दिया है. "

एनटीए ने जेईई मेन के बारे में एक स्टेटमेंट जारी करके बताया, "कोविड 19 के चलते जो उम्मीदवार जेईई मेन 2020 एग्जाम के लिए एप्लीकेशन फॉर्म में करेक्शन नहीं कर पाए हैं उन्हें एनटीए फॉर्म में सुधार करने का दूसरा मौका दे रही है. "

जेईई मेन और नीट एग्जाम के लिए एप्लीकेशन फॉर्म में करेक्शन करने की  प्रक्रिया 1 अप्रैल को शुरू हो गई थी. उम्मीदवार 14 अप्रैल तक करेक्शन कर सकते हैं. 14 अप्रैल को करेक्शन विंडो बंद कर दी जाएगी. 

एनटीए ने अपनी दूसरी स्टेटमेंट में कहा, "उम्मीदवारों से ये अपील की जाती है कि वे अपने एप्लीकेशन फॉर्म में करेक्शन बहुत ध्यान से करें, क्योंकि इसके बाद फॉर्म में सुधार करने का कोई मौका नहीं दिया जाएगा. अगर फॉर्म में किए गए बदलाव के लिए फीस जमा करने की आवश्यकता होती है तो पेमेंट करने के बाद फॉर्म में किए गए बदलाव दिखाई देंगे. " पेमेंट क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड या नेट बैंकिंग द्वारा किया जा सकता है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com