13 अप्रैल का इतिहास: जलियांवाला बाग की दुखद घटना का साक्षी है आज का दिन

Jallianwala Bagh: 13 अप्रैल 1699 को दसवें गुरु गोविंद सिंह जी ने खालसा पंथ की स्थापना की थी. उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों में इसी दिन फसल पकने की खुशी में बैसाखी का त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है.

13 अप्रैल का इतिहास: जलियांवाला बाग की दुखद घटना का साक्षी है आज का दिन

Jallianwala Bagh:13 अप्रैल का दिन जलियांवाला बाग की दुखद घटना का साक्षी है.

नई दिल्ली:

देश की आजादी के इतिहास में 13 अप्रैल का दिन एक दुखद घटना के साथ दर्ज है. वह वर्ष 1919 का 13 अप्रैल का दिन था, जब जलियांवाला बाग में एक शांतिपूर्ण सभा के लिए जमा हुए हजारों भारतीयों पर अंग्रेज हुक्मरान ने अंधाधुंध गोलियां बरसाई थीं. पंजाब के अमृतसर जिले में ऐतिहासिक स्वर्ण मंदिर के नजदीक जलियांवाला बाग (Jallianwala Bagh) नाम के इस बगीचे में अंग्रेजों की गोलीबारी से घबराई बहुत सी औरतें अपने बच्चों को लेकर जान बचाने के लिए कुएं में कूद गईं. निकास का रास्ता संकरा होने के कारण बहुत से लोग भगदड़ में कुचले गए और हजारों लोग गोलियों की चपेट में आए. एक अन्य घटना की बात करें तो खालसा पंथ की नींव भी 13 अप्रैल के दिन ही रखी गई थी. 13 अप्रैल 1699 को दसवें गुरु गोविंद सिंह जी ने खालसा पंथ की स्थापना की थी. उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों में इसी दिन फसल पकने की खुशी में बैसाखी का त्यौहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है.

देश दुनिया के इतिहास में 13 अप्रैल की तारीख पर दर्ज अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:-

1699: सिखों के दसवें गुरू गोविंद सिंह ने खालसा पंथ की स्थापना की. हर साल इसी दिन बैसाखी का त्यौहार बनाया जाता है.

1919: अंग्रेज सैनिको ने जलियांवाला बाग में शांतिपूर्ण सभा कर रहे निहत्थे भारतीयों पर गोली चला कर सैकड़ों की जान ले ही. इस दौरान हज़ारों लोग घायल हुए. इस घटना ने देश के स्वतंत्रता संग्राम का रूख मोड़ दिया.

1947: भारत और पाकिस्तान के बीच राजनयिक संबंध स्थापित.

1960: फ्रांस ने सहारा मरूस्थल में परमाणु बम का परीक्षण किया. वह यह उपलब्धि हासिल करने वाला चौथा देश बना.

1980: अमेरिका ने मास्को में हो रहे ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेलों का बहिष्कार किया.

1984: भारतीय क्रिकेट टीम ने शारजाह में पाकिस्तान को 58 रन से हराकर पहली बार एशिया कप जीता.

Newsbeep

1997: अमेरिका के युवा गोल्फ खिलाड़ी एल्ड्रिक टाइगर वुड्स ने 21 साल की उम्र में यूएस मास्टर्स चैंपियनशिप जीतकर सबसे कम उम्र में यह खिताबी विजय दर्ज की. जीतने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बने.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


2013: पाकिस्तान के पेशावर में एक बस में धमाके से आठ लोगों की मौत.
                                             



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)