NDTV Khabar

गुजरात हाईकोर्ट में NEET परीक्षा फिर से कराने के लिए याचिका

छात्रों के 40.45 अभिभावकों के समूह ने अदालत में याचिका दायर कर कहा कि सीबीएसई द्वारा संचालित परीक्षा में गुजराती के प्रश्नपत्र अंग्रेजी के प्रश्नपत्र से ज्यादा कठिन थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात हाईकोर्ट में NEET परीक्षा फिर से कराने के लिए याचिका

याचिका में अदालत से जल्द सुनवाई करने का अनुरोध किया गया.

खास बातें

  1. छात्रों के अभिभावकों ने अदालत में दायर की याचिका
  2. कहा : गुजराती और अंग्रेजी भाषाओं में एक तरह के सवालों के साथ हो परिक्षा
  3. अवकाश पीठ ने इस अनुरोध को किया स्वीकार
अहमदाबाद: एमबीबीएस में दाखिले के लिए राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (एनईईटी) में शामिल हुए कई परीक्षार्थियों के अभिभावकों ने गुरुवार को गुजरात उच्च न्यायालय से अनुरोध किया कि गुजराती और अंग्रेजी भाषाओं में एक तरह के सवालों के साथ फिर से परीक्षा करायी जाए.छात्रों के 40.45 अभिभावकों के समूह ने अदालत में याचिका दायर कर कहा कि सीबीएसई द्वारा संचालित परीक्षा में गुजराती के प्रश्नपत्र अंग्रेजी के प्रश्नपत्र से ज्यादा कठिन थे.

टिप्पणियां
याचिका में अदालत से जल्द सुनवाई करने का अनुरोध किया गया. न्यायमूर्ति ए जे शास्त्री की अवकाश पीठ ने इस अनुरोध को स्वीकार कर लिया. अब इस याचिका पर 26 मई को सुनवाई होगी.याचिका में कहा गया है कि ज्यादा कठिन प्रश्नपत्र देकर संविधान के अनुच्छेद 14 के तहत प्रदत्त समानता के छात्रों के अधिकार का उल्लंघन किया गया है.

याचिका में मांग की गयी है कि सात मई को हुयी परीक्षा रद्द की जानी चाहिए और एक जैसे सवालों के साथ फिर से परीक्षा करायी जाए. याचिकाकर्ताओं ने कहा कि गुजराती भाषा में परीक्षा देने वाले छात्रों को अलग प्रश्नपत्र दिए गए जो ज्यादा कठिन थे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement