NDTV Khabar

Telangana Intermediate Result: इंटरमीडिएट नतीजों में ‘‘गड़बड़ी’’ को लेकर विरोध-प्रदर्शन जारी 

तेलंगाना में इंटरमीडिएट परीक्षा के नतीजों में कथित गड़बड़ी को लेकर विपक्षी कांग्रेस, भाजपा और छात्र संगठनों ने मंगलवार को विरोध-प्रदर्शन तेज कर दिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Telangana Intermediate Result: इंटरमीडिएट नतीजों में ‘‘गड़बड़ी’’ को लेकर विरोध-प्रदर्शन जारी 

प्रदर्शन करते हुए लोग

तेलंगाना में इंटरमीडिएट परीक्षा के नतीजों में कथित गड़बड़ी को लेकर विपक्षी कांग्रेस, भाजपा और छात्र संगठनों ने मंगलवार को विरोध-प्रदर्शन तेज कर दिए. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के. लक्ष्मण का अनिश्चितकालीन अनशन जारी है और कांग्रेस ने आह्वान किया है कि जब तक प्रभावित छात्रों के साथ न्याय नहीं हो जाता तब तक उसकी लड़ाई जारी रहेगी. भाजपा सूत्रों ने बताया कि लक्ष्मण का अनिश्चितकालीन अनशन जारी है. सोमवार को अनशन शुरू करने के कुछ घंटों बाद उन्हें सरकारी अस्पताल ले जाया गया. भाजपा ने दो मई को बंद का आह्वान किया है. पार्टी ने शिक्षा मंत्री जी जगदीश रेड्डी के इस्तीफे, बोर्ड ऑफ इंटरमीडिएट एजुकेशन के सचिव के निलंबन, पूरे प्रकरण की न्यायिक जांच और कथित तौर पर आत्महत्या करने वाले छात्रों के परिवारों को मुआवजा देने की मांग की है. कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि जब तक ‘‘छात्रों के साथ न्याय नहीं हो जाता'' तब तक उसकी लड़ाई जारी रहेगी.

तेलंगाना में कांग्रेस मामलों के एआईसीसी प्रभारी आर सी खुंटिया ने एक बयान में आरोप लगाया कि सरकार ने प्रदर्शनों पर ध्यान नहीं दिया और केवल उन्हें रोकने की कोशिश की है. भाजपा सांसद बंडारू दत्तात्रेय, पार्टी के पार्षद एन रमचंदर राव और सैकड़ों पार्टी कार्यकर्ताओं को लक्ष्मण को ‘‘जबरन'' स्थानांतरित करने की पुलिस कार्रवाई के खिलाफ यहां हुसैन सागर झील के समीप प्रदर्शन करने की कोशिश करने के लिए एहतियातन हिरासत में लिया. भारतीय जनता युवा मोर्चा के कुछ सदस्यों को मंगलवार को पुलिस ने उस समय एहतियातन हिरासत में लिया जब उन्होंने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के आधिकारिक आवास की ओर कूच करने की कोशिश की.


JEE Advanced 2019: जानिए जेईई एडवांस्ड परीक्षा से जुड़ी हर जानकारी

दत्तात्रेय ने बाद में पत्रकारों से बातचीत में दावा किया कि नतीजों को लेकर करीब 25 छात्रों ने आत्महत्या कर ली. पूर्व केंद्रीय मंत्री ने दावा किया कि राज्यव्यापी प्रदर्शनों के दौरान करीब 5000 भाजपा कार्यकर्ताओं को एहतियातन हिरासत में लिया गया. उन्होंने कहा कि अगर राज्य सरकार का यही रवैया रहा तो उनकी पार्टी गृह मंत्रालय का ध्यान इस ओर आकर्षित करेगी. भ्रष्टाचार का अंदेशा जताते हुए प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष ए रेवंत रेड्डी ने यह पूछा कि इंटरमीडिएट नतीजों का जिम्मा एक सरकारी संस्था के बजाय एक निजी कंपनी को क्यों दिया गया.

CBSE Board Result: जानिए कब आएगा सीबीएसई बोर्ड 10वीं और 12वीं का रिजल्ट

परीक्षाएं इस साल फरवरी और मार्च में हुई थी और नतीजे 18 अप्रैल को घोषित किए गए. जब से नतीजे घोषित किए गए तब से कई छात्र और अभिभावक उत्तर पुस्तिका के मूल्यांकन में कथित गड़बड़ी केा लेकर टीएसबीआईई के कार्यालय में जा रहे हैं.

टिप्पणियां

(इनपुट- पीटीआई)



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement