NDTV Khabar

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ASEAN देशों के 1 हजार छात्रों के लिए आईआईटी में पीएचडी फेलोशिप शुरू की

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने आसियान देशों के छात्रों के लिए आईआईटी में एक ‘‘पीएचडी फेलोशिप’’ कार्यक्रम शुरू किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ASEAN देशों के 1 हजार छात्रों के लिए आईआईटी में पीएचडी फेलोशिप शुरू की

फेलोशिप के लिए 1,000 छात्रों का चयन किया जाएगा.

नई दिल्ली:

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने आसियान देशों के छात्रों के लिए आईआईटी में एक ‘‘पीएचडी फेलोशिप'' कार्यक्रम शुरू किया है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. यह कार्यक्रम अपनी तरह का सबसे बड़ा कार्यक्रम है, जिसमें तीन बैच में 1,000 छात्रों का चयन किया जाएगा. जयशंकर ने यहां जवाहरलाल नेहरू भवन में इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया और छात्रों से आवेदन प्राप्त करने के लिए एक पोर्टल भी शुरू किया.

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सरकार आसियान (दक्षिण पूर्व एशियाई देशों का संगठन) देशों के छात्रों के लिए पूरी तरह से वित्त पोषित इस पीएचडी कार्यक्रम के लिए 300 करोड़ रूपये खर्च करेगी. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), दिल्ली इस कार्यक्रम के लिए समन्वय एजेंसी होगी, जो अगले तीन बरसों में 1,000 छात्रों का चयन करेगी.

मंत्रालय के अधिकारी ने बताया, ‘‘इस साल 250 छात्रों का चयन किया जाएगा, अगले साल 300 और उसके अगले साल 450 छात्रों का चयन किया जाएगा.'' विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि कार्यक्रम के लिए पूरा धन मानव संसाधन विकास मंत्रालय उपलब्ध करा रहा है और विदेश मंत्रालय आसियान देशों से संपर्क कर इसे लोकप्रिय बनाने के लिए इसमें एक साझेदार है.


आसियान के सदस्य देशों में ब्रूनेई, कंबोडिया, इंडोनेशिया, लाओस, मलेशिया, म्यामां, फिलीपीन, सिंगापुर, थाईलैंड और वियतनाम शामिल हैं. 

अन्य खबरें
Atharva Ankolekar: कंडक्‍टर का बेटा बना U-19 एशिया कप का स्‍टार, मुसीबतों को अपनाकर लिखी जीत की ईबादत
ओडिशा के 9 केंद्रीय विद्यालयों की 184 कक्षाएं बनीं स्मार्ट क्लास

टिप्पणियां



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement