NDTV Khabar

सेल्फ ट्रेनिंग और दो साल की कड़ी मेहनत ने तेजस्विनी को बनाया मिसेज इंटरनेशनल

मीडिया इंडस्ट्री मे लंबे समय से काम कर रही हैं तेजस्विनी, इसी दौरान किया खुदको तैयार

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सेल्फ ट्रेनिंग और दो साल की कड़ी मेहनत ने तेजस्विनी को बनाया मिसेज इंटरनेशनल

तेजस्विनी की फाइल फोटो

खास बातें

  1. अपनी मेहनत को समर्पित किया अवार्ड
  2. महिलाओं के लिए करना चाहती हैं काम
  3. प्रियंका चोपड़ा हैं रोल मॉडल
नई दिल्ली: किसी चीज को हासिल करने की जिद्द और कड़ी मेहनत आपको सफलता जरूर दिलाती है. इस कहावत को सच साबित करके दिखाया है तेजस्विनी सिंह ने. वह अपनी कड़ी मेहनत की वजह से सिंगापुर में आयोजित कार्यक्रम में मिसेज इंटरनेशनल चुनी गई. इस प्रतियोगिया में तेजस्विनी के अलावा अन्य कई देश की प्रतिभागियों ने भी हिस्सा लिया था. तेजस्विनी इस कामयाबी का श्रेय अपनी सेल्फ ट्रेनिंग और दो साल की कड़ी मेहनत को देती हैं.

यह भी पढ़ें: इंडिया लौटीं Miss World मानुषी छिल्लर, एयरपोर्ट पर हुआ ग्रांड Welcome

एनडीटीवी खबर से बातचीत में उन्होंने बताया कि मीडिया इंडस्ट्री में काम करते हुए इतने बड़े स्टेज के लिए खुदको तैयार करना एक बड़ी चुनौती थी, लेकिन मैनें हार कभी नहीं मानी. मैं शुरू से कुछ अलग करना चाहती थी. यही वजह थी कि शादी के बाद से मैं अपने खानेपीने का विशेष ध्यान रखना शुरू कर दिया था. इसके साथ ही खुदको फिट करने पर भी मेरा खासा ध्यान था. तेजस्विनी का मानना है कि इस तरह की उपलब्धि हासिल करने के लिए जरूरी है कि आप खुद पर भरोसा करें. उन्होंने बताया कि इस खिताब को जीतने से पहले भी मेरे जीवन में कई उतार-चढ़ाव आए लेकिन मैं कभी मेहनत करना नहीं छोड़ा. मैं जब महज 22 साल  की थी तब मेरे पिता का निधन हो गया. परिवार की जिम्मेदारी उठाने के साथ-साथ अपने सपने को साकार करने के लिए दिन रात मेहनत करना एक बड़ी चुनौती थी लेकिन मैंने इस चुनौती को स्वीकार किया. मेरे इसी हौसले ने मुझे आज कामयाब बनाया है.

यह भी पढ़ें: सुष्मिता सेन को अाम से बेहद खास बनाती हैं उनकी ये 10 बातें

प्रियंका चोपड़ा है रोल मॉडल
तेजस्विनी ने बताया कि उनके लिए प्रियंका चोपड़ा शुरू से ही रोल मॉडल रही हैं. मैंने प्रियंका चोपड़ा की पर्सनालिटी से काफी कुछ सीखा है. खुदको फिट रखना और दूसरों के सामने अपनी बात सही तरह से रखना भी आपकी पर्सनालिटी का हिस्सा है. प्रियंका के अलावा मैंने पिछले साल मिस वर्ल्ड बनी मानुषी छिल्लर से भी काफी कुछ सीखा है. 

वुमन इंपावरमेंट के लिए करना है काम 
मिसेज इंटरनेशनल का खिताब जीतने के बाद तेजस्विनी भारत में वुमेन इंपावरमेंट के क्षेत्र में काम करना चाहती है. उन्होंने बताया कि वह चाहती हैं कि देश में महिला को सशक्त बनाने के लिए काम किया जाएगा.

टिप्पणियां
VIDEO: आमिर खान के साथ काम करना चाहती हैं मानुषी


इस क्षेत्र में अभी काफी कुछ किया जाना बांकि है. उन्होंने बताया कि आज भी घरेलू हिंसा और दहेज प्रताड़ना के कई मामले आए दिन सामने आ रहे हैं. मैं चाहती हूं कि मैं इन सभी कुरीतियों को दूर करने के लिए काम करूं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement