NDTV Khabar

विदेश में पढ़ने की है इच्‍छा,तो ये हैं आपके लिए बेस्‍ट ऑप्‍शन

4 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
विदेश में पढ़ने की है इच्‍छा,तो ये हैं आपके लिए बेस्‍ट ऑप्‍शन
नई दिल्‍ली: विदेश में पढ़ने की इच्‍छा हर छात्र की होती है. जब आप ये तय करते हैं कि आप विदेश में पढ़ाई करेंगे, तो इसका अगला कदम होता है कि किस देश और यूनिविसर्टी में जाया जाए. इसके लिए हम कई तरह की रिसर्च भी करते हैं, विशेषज्ञ से बात भी करते हैं. हालांकि पहले भारतीय छात्रों की यूएसए और यूके में पढ़ाई करने के इच्‍छा होती है हाल के राजनीतिक उथल-पुथल ने छात्रों को अन्य देशों की ओर मुड़ने के लिए मजबूर किया है. कई ऐसे यूरोपीय देश हैं जहां समान रूप से अच्छे विश्वविद्यालय हैं‌. कई सालों तक, विदेशों में अध्ययन करने के लिए जर्मनी भी पसंदीदा स्थलों में से एक रहा है. आइए जानते हैं-

जर्मनी
अंग्रेजी सिखने वाले छात्रों के लिए जर्मनी काफी अच्‍छे कार्यक्रमों पेश करता है, जिसके बाद छात्रों को जर्मनी में अध्ययन करने की आवश्यकता महसूस हो सकती है. कई पब्लिक यूनिवर्सिटी में काफी कम दाम पर छात्रों को कोर्स ऑफ किए जाते हैं. जर्मनी इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी के छात्रों के बीच पसंदीदा स्थलों में से एक है.
 
study abroad germany

नीदरलैंड्स
नीदरलैंड में विश्वविद्यालय अंग्रेजी भाषा में अध्ययन कार्यक्रमों की अधिकतम संख्या की पेश करती हैं. इसमें अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए 2,100 से अधिक अध्ययन कार्यक्रम हैं. यहां रहना भी आपकी जेब पर भारी नहीं पड़ेगा.
 
study abroad netherlands

फ्रांस
फ्रांस में पब्लिक विश्वविद्यालयों द्वारा ली जाने वाली ट्यूशन फीस काफी कम है. यहां रहना हो सकता है आपको थोड़ा भारी लगे लेकिन फ्रांस में अध्ययन का लाभ आपको यहां की कला और संस्कृति का जानकर जरूर मिलेगा. यहां अधिकांश पाठ्यक्रम फ्रेंच में सिखाए जाते हैं, हालांकि यहां अंग्रेजी में पढ़ाए जाने वाले लगभग 1100 पाठ्यक्रम हैं.
 
study abroad france

नॉर्वे
नॉर्वे में पढ़ना कुछ विशेष कार्यक्रमों को छोड़कर सभी सार्वजनिक विश्वविद्यालयों में मुफ्त है. यहां रहना अन्य देशों की तुलना में महंगा हो सकता है. यहां अधिकांश पाठ्यक्रम नॉर्वेजियन में सिखाए जाते हैं हालांकि यहां 250 मास्टर कोर्स और 250 बैचलर कोर्स हैं जो अंग्रेजी में सिखाए जाते हैं.
 
study abroad norway
पोलैंड
यहां पोलिश में सीखाए जाने वाले कोर्स फ्री हैं जबकि अन्‍य भाषाओं में कोर्स करने के लिए आपको यहां टयूशन फीस देनी होगी. लगभग 700 पाठ्यक्रम हैं जो विदेशी भाषाओं में सिखाए जाते हैं‌. यहां पर शिक्षण पद्धति सहभागितापूर्ण है और महत्वपूर्ण सोच को प्रोत्साहित करती है.
 
study abroad poland



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement