National Youth Day 2021: युवाओं के मार्गदर्शक बने स्वामी विवेकानंद की जयंती, जानिए आज के दिन का इतिहास

Swami Vivekananda Birth Anniversary: स्वामी विवेकानंद का नाम इतिहास में एक ऐसे विद्वान के रूप में दर्ज है, जिन्होंने मानवता की सेवा को अपना सर्वोपरि धर्म माना.

National Youth Day 2021: युवाओं के मार्गदर्शक बने स्वामी विवेकानंद की जयंती, जानिए आज के दिन का इतिहास

National Youth Day 2021: अपनी ओजपूर्ण वाणी से युवाओं के मार्गदर्शक बने स्वामी विवेकानंद की जयंती.

नई दिल्ली:

Swami Vivekananda Birth Anniversary: स्वामी विवेकानंद का नाम इतिहास में एक ऐसे विद्वान के रूप में दर्ज है, जिन्होंने मानवता की सेवा को अपना सर्वोपरि धर्म माना. अमेरिका के शिकागो में धर्म सभा में अपने धाराप्रवाह भाषण के कारण अंतरराष्ट्रीय सुर्खियों में आए भारतीय संन्यासी स्वामी विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी 1863 को बंगाल में हुआ था. स्वामी विवेकानंद अपने ओजपूर्ण और बेबाक भाषणों के कारण काफी लोकप्रिय हुए, विशेषकर युवाओं में. इसी कारण उनके जन्मदिन को पूरा राष्ट्र ‘युवा दिवस' के रूप में मनाता है.

उन्होंने मानवता की सेवा एवं परोपकार के लिए 1897 में रामकृष्ण मिशन की स्थापना की. इस मिशन का नाम विवेकानंद ने अपने गुरु रामकृष्ण परमहंस के नाम पर रखा.

देश दुनिया के इतिहास में 12 जनवरी की तारीख पर दर्ज अन्य महत्‍वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्योरा इस प्रकार है :- 

1708 : शाहू को मराठा शासक बनाया गया.

1757 : पश्चिम बंगाल के बंदेल को ब्रिटिश शासको ने पुर्तगालियों से छीना.

1863 : स्वामी विवेकानंद का जन्म.

1931: पाकिस्तान के मशहूर उर्दू शायर अहमद फराज का जन्म.

1934: भारत की आजादी के लिए संघर्ष करने वाले क्रांतिकारी सूर्यसेन को अंग्रेजों ने फांसी पर लटका दिया.

1976: जासूसी उपन्यासों की मशहूर लेखिका अगाथा क्रिस्टी का निधन.

1984 : स्वामी विवेकानंद के जन्मदिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के तौर पर मनाने का ऐलान.


1991: अमेरिकी संसद ने इराक के खिलाफ सैन्य कार्रवाई की मंजूर दी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


2008: कोलकाता के बाजार में भीषण आग लगने से सैकड़ों दुकानें क्षतिग्रस्त.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)