एग्जाम स्ट्रेस दूर करने के लिए स्टूडेंट्स को कब्र में लिटा रही है ये यूनिवर्सिटी, जमकर हो रही है बुकिंग

नीदरलैंड के निजमेगन में स्थित रैडबाउड यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स को कब्र में लिटाकर मेडिटेशन करा रही है.

एग्जाम स्ट्रेस दूर करने के लिए स्टूडेंट्स को कब्र में लिटा रही है ये यूनिवर्सिटी, जमकर हो रही है बुकिंग

कब्र में मेडिटेशन कर रही स्टूडेंट

नई दिल्ली:

मौत को कोई टाल नहीं सकता और न ही किसी को यह पहले से पता होता है कि उसकी मौत कब और कैसे होगी. इसीलिए हमें बचपन से ही समय के महत्व को समझाया जाता आ रहा है. समय बेहद मूल्यवान है और अपने समय का बेहतर उपयोग कर आप जिंदगी में जो चाहे हासिल कर सकते हैं. जीवन का महत्व और समय की कीमत समझाने के लिए नीदरलैंड की एक यूनिवर्सिटी अजीबो-गरीब आइडिया का इस्तेमाल कर रही है. मिरर के मुताबिक नीदरलैंड के निजमेगन में स्थित रैडबाउड यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स को कब्र में लिटाकर मेडिटेशन करा रही है. यूनिवर्सिटी के मुताबिक इस प्रयोग के बाद स्टूडेंट्स समय की कीमत समझ रहे हैं, साथ ही वे एग्जाम स्ट्रेस को भी दूर कर पा रहे हैं.

स्टूडेंट्स को इस तरीके से काफी फायदा हुआ. यही नहीं इस तरीके से टेंशन दूर भगाने के इच्छुक स्टूडेंट्स को अब लाइन में लगना पड़ रहा है. वेटिंग लिस्‍ट काफी लंबी हो चुकी है. अब स्टूडेंट्स को कब्र में मेडिटेशन  के लिए बुकिंग करनी पड़ रही है. कब्र को छात्र 30 मिनट से लेकर 3 घंटे तक बुक कर सकते हैं.

आपको बता दें कि दक्षिण कोरिया में भी इसी से मिलता जुलता एक तरीका इस्तेमाल किया जा रहा है. दक्षिण कोरिया में लोग जीवित रहते हुए कब्र में लेट रहे हैं. यहां ह्योवोम हीलिंग सेंटर ये सेवा दे रहा है और इसका उद्देश्य लोगों को मौत का अनुभव कराना और उन्हें जिंदगी की कीमत समझाना है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अन्य खबरें
CBSE Passing Marks: 10वीं और 12वीं में पास होने के लिए लाने होंगे इतने अंक, जानिए डिटेल
Children's Day 2019: जवाहर लाल नेहरू के जन्मदिवस पर क्यों मनाया जाता है बाल दिवस?