9 अप्रैल का इतिहास: जब अन्ना हजारे ने भ्रष्टाचार के खिलाफ खत्‍म किया था अपना अनशन

सामाजिक कार्यकर्ता और देश में भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन की अलख जगाने वाले अन्ना हजारे ने 2011 को दिल्ली के रामलीला मैदान में धुआंधार तरीके से अनशन किया था और 9 अप्रैल को अपने इस अनशन का समापन किया था.

9 अप्रैल का इतिहास: जब अन्ना हजारे ने भ्रष्टाचार के खिलाफ खत्‍म किया था अपना अनशन

अन्ना हजारे ने भ्रष्टाचार के खिलाफ अपना अनशन 9 अप्रैल को ही समाप्त किया था.

नई दिल्ली:

अनशन और आंदोलन जैसे शब्द आजकल कम सुनाई देते हैं, लेकिन 9 अप्रैल के दिन का हाल के वर्षों के एक चर्चित अनशन से गहरा नाता है. सामाजिक कार्यकर्ता और देश में भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन की अलख जगाने वाले अन्ना हजारे ने 2011 को दिल्ली के रामलीला मैदान में धुआंधार तरीके से अनशन किया था और 9 अप्रैल को अपने इस अनशन का समापन किया था. उनके इस भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन का महत्व इसलिए भी अधिक है क्योंकि कभी उनके सहयोगी रहे अरविंद केजरीवाल के दिल्ली के तख्तो ताज तक पहुंचने का रास्ता इसी आंदोलन से निकला था. यह दिन दुनिया की एक और बड़ी घटना का भी गवाह है. वर्ष 2003 का वह मंजर बहुत से लोगों को याद होगा, जब इराक के तानाशाह शासक सद्दाम हुसैन के शासन का अंत हुआ था और लोगों ने बगदाद के फिरदौस चौराहे पर लगी सद्दाम की मूर्ति को गिरा डाला था. इतिहास में वह घटना भी नौ अप्रैल की तारीख में दर्ज है.

देश दुनिया के इतिहास में नौ अप्रैल की तारीख पर दर्ज अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्योरा इस प्रकार है-

1669: मुगल बादशाह औरंगजेब ने सभी हिन्दू स्कूलों और मंदिरों को ध्वस्त करने का आदेश दिया.

1860: पहली बार मनुष्य की आवाज रिकार्ड की गई .

1965: कच्छ के रण में भारत पाक में युद्ध छिड़ा.

1988: अमेरिका ने पनामा पर आर्थिक प्रतिबंध लगाये.

2001: अमेरिकी एयरलाइंस ने ट्रांस वर्ल्ड एयरलाइंस का औपचारिक रूप से अधिग्रहण किया और वह उस समय दुनिया की सबसे बड़ी एयरलाइन बन गई.

2002: बहरीन में निगम चुनाव में महिलाओं को हिस्सा लेने की अनुमति मिली.

2003: इराक को सद्दाम की तानाशाही से मुक्ति मिली.

2005: प्रिंस चार्ल्स ने कैमिला से विवाह किया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

2010: श्रीलंका के राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे के यूनाइटेड पीपुल्स फ्रीडम एलायंस ने 225 सीटों वाली संसद में 117 सीटें जीतीं.

2011: सरकार द्वारा लोकपाल कानून बनाने की मांग मान लेने के बाद अन्ना हजारे ने 95 घंटे से जारी अपना आमरण अनशन समाप्त कर दिया.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)