NDTV Khabar

भारतीय छात्रों को खींचने के लिए ब्रिटेन ने बढ़ाई स्कॉलरशिप, वीजा प्रक्रिया भी की आसान

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारतीय छात्रों को खींचने के लिए ब्रिटेन ने बढ़ाई स्कॉलरशिप, वीजा प्रक्रिया भी की आसान

प्रतीकात्मक तस्वीर

कोलकाता:

फर्जी कॉलेजों पर शिकंजा कसने के कारण पिछले कुछ वर्षों में भारतीय छात्रों की संख्या में कमी आयी है, लेकिन ब्रिटिश सरकार विद्यार्थियों को बढ़ी हुई स्कॉलरशिप के माध्यम से लुभाने का प्रयास कर रही है। ब्रिटिश उच्चायोग के एक अधिकारी ने यह बात कही।

ब्रिटिश उच्चायोग में मिनिस्टर काउंसिलर (राजनीति एवं प्रेस) एन्ड्रयू सोपर ने कोलकाता में कहा, ‘‘यदि आप तीन-चार साल पहले के आंकड़ों से तुलना करें तो संख्या में कमी आयी है। ऐसा इसलिए है क्योंकि हमने तेजी से फर्जी कॉलेजों पर शिकंजा कसा है। अब हम बेहतर कर रहे हैं और सिर्फ मान्यता प्राप्त संस्थाएं ही बची हैं।’’ उन्होंने कहा कि अब भारतीय छात्रों की संख्या में स्थिरता आयी है और हम इसके बढ़ने की आशा कर रहे हैं।

टिप्पणियां

छात्रवृति के बारे में सोपर ने कहा कि ‘ग्रेट ब्रिटेन’ अभियान के तहत इंग्लैंड, स्कॉटलैंड, वेल्स और नॉर्दन आयरलैंड में हम 59 अंडर ग्रेजुएट और 232 पोस्ट ग्रेजुएट स्तर की स्कॉलरशिप दे रहे हैं।


वीजा पाना भी हुआ आसान
वीजा प्रक्रिया भी आसान कर दी गयी है और अब आवेदन करने वाले 10 में से नौ छात्रों को वीजा मिल जाता है। अधिकारी ने कहा, ‘‘यदि आपको ब्रिटेन के किसी विश्वविद्यालय में दाखिला मिला है तो आपको वीजा मिलेगा।’’ भारतीयों के लिए कुछ लोकप्रिय पाठ्यक्रमों में मैनेजमेंट और इंजीनियरिंग हैं।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement