UK ने पोस्ट-स्टडी वर्क वीजा को फिर से शुरू करने की मांग को किया खारिज

UK ने पोस्ट-स्टडी वर्क वीजा को फिर से शुरू करने की मांग को किया खारिज

डेविड कैमरन

लंदन:

ब्रिटेन में पढ़ाई कर रहे भारतीय छात्रों के लिए बुरी खबर है। यूके सरकार ने बुधवार को भारतीय और यूरोपियन संघ से बाहर के छात्रों के बीच लोकप्रिय पोस्ट-स्टडी वर्क वीजा को फिर से शुरू की मांग को खारिज कर दिया है। 

ब्रिटेन सरकार ने इस बात पर जोर दिया है कि प्रतिभाशाली छात्रों को यहां नहीं आना चाहिए और निम्न स्तर की नौकरियां नहीं करनी चाहिए। 

प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने स्कॉटिश सरकार की मांग को खारिज कर दिया। 

कैमरन ने हाउस ऑफ कॉमन्स में कहा कि हमारे देश में बहुत से लोग नौकरियों को लेकर हताश हैं। हम नहीं चाहते कि बेस्ट स्टूडेंट्स यहां आएं और निम्न स्तर की जॉब करें। हमारा आव्रजन नियम इसलिए नहीं है। 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ब्रिटेन में टायर-1 (पोस्ट स्टडी वर्क), को 2012 में खत्म कर दिया गया था। यह सिस्टम यूके में बाहर के छात्रों को पढ़ाई पूरी करने के बाद दो साल तक काम करने की इजाजत देता था, ताकि छात्र अपने मुल्क लौटने से पहले कुछ पैसे कमा सकें। 

यूके जाकर पढ़ाई करने वाले भारतीय छात्रों में भारी गिरावट भी देखने को मिली है। 2010-11 में जहां 18,535 भारतीय छात्र यूके पढ़ने गए, वहां 2012-13 में यह संख्या गिरकर 10,235 हो गर्ई। पोस्ट स्टडी वीजा खत्म किए जाने की वजह से अब भारतीय छात्रों के लिए अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया पसंदीदा जगह हो गई हैं।