Unlock5: पश्चिम बंगाल में कब से खुलेंगे स्कूल? ममता बनर्जी ने बताया

Unlock 5: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार को स्कूलों को फिर से खोलने की संभावना से इनकार करते हुए कहा कि उनकी सरकार नवंबर के मध्य के बाद ही स्कूलों को फिर से खोलने के बारे में विचार करेगी. 

Unlock5: पश्चिम बंगाल में कब से खुलेंगे स्कूल? ममता बनर्जी ने बताया

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बताया कि राज्य में स्कूल कब से खुलेंगे.

Unlock 5: गृह मंत्रालय ने अनलॉक 5 के लिए दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं. गृह मंत्रालय (MHA) द्वारा जारी नए दिशानिर्देशों के अनुसार, राज्य और केंद्र शासित प्रदेश 15 अक्टूबर के बाद स्कूलों और शैक्षणिक संस्थानों को फिर से खोलने पर फैसला कर सकते हैं. हालांकि, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार को स्कूलों को फिर से खोलने की संभावना से इनकार करते हुए कहा कि उनकी सरकार नवंबर के मध्य के बाद ही स्कूलों को फिर से खोलने के बारे में विचार करेगी. 

उत्तर बंगाल में एक प्रशासनिक समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि 14 नवंबर को काली पूजा के बाद ही स्कूलों को फिर से खोलने के बारे में निर्णय लिया जाएगा. 

इससे पहले राज्य के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा था कि बंगाल महामारी की गति धीमी होने की प्रतीक्षा करेगा, क्योंकि वे स्कूलों में कक्षाओं को फिर से शुरू करके छात्रों के स्वास्थ्य को जोखिम में डालने के पक्ष में नहीं है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वहीं, MHA दिशानिर्देश में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को यह तय करने की अनुमति दी गई है कि वे स्कूलों और कोचिंग केंद्रों को फिर से खोलने और आमने-सामने की कक्षाएं शुरू करने के बारे में फैसला ले सकते हैं. हालांकि, दिशानिर्देशों में यह भी कहा गया है कि "ऑनलाइन या डिस्टेंस लर्निंग चालू रहेगी और इसे प्रोत्साहित किया जाएगा.

एमएचए दिशानिर्देशों के अनुसार, छात्रों को अपने माता-पिता की लिखित सहमति के साथ स्कूलों या संस्थानों में आने की अनुमति दी जाएगी और स्कूलों में अटेंडेंस अनिवार्य नहीं होगी. राज्य और केंद्र शासित प्रदेश सभी छात्रों और शिक्षकों के स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिए अपने स्वयं की SOP तैयार करेंगे. जिन स्कूलों को खोलने की अनुमति है, उन्हें राज्यों के शिक्षा विभागों द्वारा जारी किए जाने वाले SOP का अनिवार्य रूप से पालन करना होगा.