UP board result 2019: 10वीं में 80.07 और 12वीं में 70.06 प्रतिशत विद्यार्थी हुए पास, लड़कियों ने मारी बाजी

10वीं में इस वर्ष 80.07 प्रतिशत, जबकि 12वीं में 70.06 प्रतिशत विद्यार्थियों ने परीक्षा पास की है. वहीं, इस बार करीब 6 लाख छात्र-छात्राओं ने परिक्षाएं नहीं दीं. 

UP board result 2019: 10वीं में 80.07 और 12वीं में 70.06 प्रतिशत विद्यार्थी हुए पास, लड़कियों ने मारी बाजी

ये है 12वीं कक्षा की छात्रा तनु तोमर, इन्होंने 97.8% प्रतिशत नंबरों के साथ टॉप किया है

प्रयागराज:

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद(Board of High School and Intermediate Education Uttar Pradesh) की हाईस्कूल(10वीं) और इंटर(12वीं) परीक्षा 2019 के परिणाम आ चुके हैं. हाईस्कूल में 80.07 प्रतिशत परीक्षार्थी पास हुए हैं जबकि इंटरमीडिएट में 70.06 प्रतिशत परीक्षार्थियों को सफलता मिली है. वहीं, यूपी बोर्ड इंटर में 76.46 प्रतिशत लड़कियां और 64.40 प्रतिशत लड़के पास हुए हैं. 

शिक्षा निदेशक(माध्यमिक) विनय कुमार पांडेय व बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि 10वीं में इस वर्ष 80.07 प्रतिशत, जबकि 12वीं में 70.06 प्रतिशत विद्यार्थियों ने परीक्षा पास की है. वहीं, इस बार करीब 6 लाख छात्र-छात्राओं ने परिक्षाएं नहीं दीं. 

UP board result 2019 Check Here: 10वीं और 12वीं का रिज़ल्ट चेक करने के सभी लिंक्स और SMS का तरीका

उन्होंने बताया कि 10वीं की परीक्षा टॉप करने वाले गौतम रघुवंशी कानपुर के ओंकारेश्वर सरस्वती विद्या निकेतन इंटर कॉलेज के छात्र हैं. गौतम रघुवंशी ने यूपी बोर्ड की हाईस्कूल की परीक्षा में 97.17 फीसदी अंक हासिल किए. गौतम रघुवंशी इंजीनियरिंग करना चाहते हैं.

12वीं की परीक्षा में श्री राम इंटर कॉलेज बड़ौत बागपत की छात्रा तनु तोमर ने टॉप किया है. इन्हें 500 में से 489 (97.8%) नंबर मिले.

10वीं और 12वीं का रिजल्ट जारी, upmsp.edu.in पर देखें

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

10वीं के शीर्ष 10 में 21 छात्र-छात्राएं है, जबकि 12वीं में शीर्ष 10 में 14 छात्र-छात्राएं हैं. 12वीं में दूसरा स्थान गोंडा की भाग्यश्री उपाध्याय ने प्राप्त किया है. तीसरा स्थान प्रयागराज की आकांक्षा शुक्ल को मिला है. यानी इस बार यूपी बोर्ड में लड़कियों ने बाज़ी मारी है.

माध्यमिक शिक्षा परिषद (उप्र बोर्ड) की 10वीं व 12वीं की परीक्षा 2019 के लिए 58 लाख छह हजार 922 परीक्षार्थियों ने पंजीकरण कराया था. इसमें 10वीं के लिए 31 लाख 79 हजार 347 और 12वीं के लिए 26 लाख 27 हजार 575 परीक्षार्थी थे. परीक्षा के दौरान करीब छह लाख 52 हजार 881 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी थी.