NDTV Khabar

UPESEAT 2017: यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज में एडमिशन के लिए एप्टीट्यूड टेस्ट आयोजित

यूपीईएस इंजीनियरिंग एप्टीट्यूड टेस्ट (यूपीईएसईएटी) के जरिए बीटेक/बीडिजाइन व बीप्लान कोर्सेज में एडमिशन लिया जाता है. एनर्जी, इंफ्रास्ट्रक्चर, ट्रांसपोर्टेशन और एप्लीकेशन आईटी के क्षेत्र में करियर बनाने की चाह रखने वालों के लिए यह बेहतरीन ऑप्शन है.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
UPESEAT 2017: यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज में एडमिशन के लिए एप्टीट्यूड टेस्ट आयोजित
यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज (यूपीईएस) में एडमिशन के लिए शनिवार (13 मई, 2017) को एप्टीट्यूड टेस्ट आयोजित किया गया. यूपीईएस इंजीनियरिंग एप्टीट्यूड टेस्ट (यूपीईएसईएटी) के जरिए बीटेक/बीडिजाइन व बीप्लान कोर्सेज में एडमिशन लिया जाता है. एनर्जी, इंफ्रास्ट्रक्चर, ट्रांसपोर्टेशन और एप्लीकेशन आईटी के क्षेत्र में करियर बनाने की चाह रखने वालों के लिए यह बेहतरीन ऑप्शन है. तीन घंटे का पेपर-पेंसिल टेस्ट देश भर के करीब 40 शहरों में आयोजित हुआ. 

कोर्सेज के लिए विद्यार्थियों का चयन एंट्रेंस टेस्ट में उनकी परफॉर्मेंस और काउंसलिंग के आधार पर होगा. UPES-EAT में करीब 80 प्रतिशत सीटें UPES-EAT 2017 देने वालों के लिए आरक्षित हैं, जबकि शेष 20 प्रतिशत सीटों पर एडमिशन बोर्ड मेरिट व JEE Main 2017 स्कोर के माध्यम से होगा. 

योग्यता
बीटेक कोर्सेज के लिए ( BTech +LL.B (Hons) के अलावा) - 10वीं-12वीं में 60 फीसदी मार्क्स, एवं 12वीं में पीसीएम में कम से कम 60 फीसदी एग्रीगेट हो

BTech +LL.B (Hons), BDes और BPlan कोर्सेज के लिए – 10वीं-12वीं में 50 फीसदी मार्क्स, एवं 12वीं में पीसीएम में कम से कम 50 फीसदी एग्रीगेट हो

UPES-EAT एग्जाम में 200 मल्टीपल च्वॉइस प्रश्न पूछे जाते हैं. ये प्रश्न फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स, इंग्लिश लेंग्वेज कॉम्प्रीहेंशन  करेंट अफेयर अवेयरनेस से जुड़े होते हैं. 

प्रत्येक सही उत्तर के लिए 1 अंक दिया जाएगा. नेगेटिव मार्किंग नहीं है.  


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement