NDTV Khabar

UPSC Engineering Services (Main) Examination 2017: नतीजे घोषित, upsc.gov.in पर करें चेक

इंटरव्यू की सही तारीख की जानकारी उम्मीदवारों को ई-समन पत्र के जरिए दी जाएगी. रोल नंबर वाइज इंटरव्यू का शेड्यूल भी आयोग की वेबसाइट पर जारी किया जाएगा.

95 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
UPSC Engineering Services (Main) Examination 2017: नतीजे घोषित, upsc.gov.in पर करें चेक

UPSC ने ESE Main Exam 2017 Result घोषित किया

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने इंजीनियरिंग सर्विसेज मेन एग्जाम (ईएसई) 2017 का रिजल्ट घोषित कर दिया है. इंडियन इंजीनियरिंग सर्विसेज (आईईएस) के नाम से मशहूर यह परीक्षा मई में आयोजित हुई थी. परीक्षा में क्वालिफाई करने वाले उम्मीदवारों का अब इंटरव्यू/पर्सनैलिटी टेस्ट होगा. चयनित उम्मीदवार अपना आवेदन पत्र 29 जून से 12 जुलाई, 2017 के बीच सब्मिट कर दें. इंटरव्यू जुलाई-अगस्त, 2017 के दौरान हो सकता है. सही तारीख का ऐलान होना अभी बाकी है.  आयोग पर्सनैलिटी टेस्ट आयोजित करने के बाद क्वालिफाई करने में असफल उम्मीदवारों की मार्क शीट जारी करेगा. ये मार्क शीट 60 दिनों की अवधि तक वेबसाइट पर उपलब्ध रहेगी. 

इंटरव्यू की सही तारीख की जानकारी उम्मीदवारों को ई-समन पत्र के जरिए दी जाएगी. रोल नंबर वाइज इंटरव्यू का शेड्यूल भी आयोग की वेबसाइट पर जारी किया जाएगा. उम्मीदवार इस संबंध में अपडेट के लिए आयोग की वेबसाइट http://www.upsc.gov.in देखें.

जानकारी के लिए यहां कर सकते हैं संपर्क
संघ लोक सेवा आयोग के परिसर में एक सुविधा काउंटर स्थित है. उम्मीदवार अपनी परीक्षा/परिणाम से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी/स्पष्‍टीकरण इस काउंटर से कार्य दिवसों में सुबह 10.00 से शाम 5.00 बजे के बीच व्यक्तिगत रूप से या फोन नं.  23388088, (011)-23385271/23381125/23098543 पर प्राप्‍त कर सकते हैं.
 
ऑनलाइन विस्‍तृत आवेदन प्रपत्र भरने के दौरान किसी प्रकार की कठिनाई आने की स्थिति में उम्‍मीदवार,  23388088/23381125 एक्‍स्‍टेंशन 4331/4340 पर कार्य दिवसों में सुबह 10.00 बजे से शाम 5.00 बजे के बीच संपर्क कर सकते हैं.

इंटरव्यू के समय उम्‍मीदवारों को अपनी आयु, शैक्षिक योग्‍यता, समुदाय, शारीरिक अक्षमता (जहां लागू हो) आदि के मूल प्रमाण-पत्र  प्रस्तुत करने होंगे.

क्यूसीएबी सिस्टम किया गया लागू
यह परीक्षा विभिन्न विभागों में रिक्त 440 पदों को भरने के लिए आयोजित की गई थी. पहली बार आयोग ने आईईएस एग्जाम में क्यूसीएबी लागू किया. आईईएस के अलावा यह पैटर्न इंडियन इकोनॉमिक सर्विस/इंडियन स्टैटिस्टिकल सर्विस एग्जाम और कंबाइंड जियो-साइंटिस्ट, जियोलॉजिस्ट एग्जाम में भी लागू किया गया. इसके तहत अब आंसर बुक और क्वेश्चन पेपर अलग अलग देना बंद कर दिया गया है. अब एक ही बुकलेट 'क्वेश्चन-कम-आंसर बुकलेट' (क्यूसीएबी) में आंसर दे दिए जाते हैं. इसमें प्रत्येक प्रश्न के नीचे उत्तर की जगह दी गई होती है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement