UPSC : सिविल सेवा परीक्षा में दूसरी रैंक लाए जतिन किशोर ने दिया सफलता का मंत्र

जतिन यूपीएससी के भावी परीक्षार्थियों के लिए कहा, ''परीक्षार्थियों को कंटेट पर अधिक फोकस करना होगा तभी सफलता प्राप्त होगी ''

UPSC : सिविल सेवा परीक्षा में दूसरी रैंक लाए जतिन किशोर ने दिया सफलता का मंत्र

UPSC एग्जाम में दूसरी रैंक हासिल करने में सफल रहे जतिन किशोर

नई दिल्ली:

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने आज सिविल सेवा परीक्षा 2019 का फाइनल रिजल्ट जारी किया, जिसमें कुल 829 उम्मीदवार सफल होने में कामयाब रहे. यूपीएससी 2019 की परीक्षा में जहां हरियाणा के प्रदीप सिंह ने ऑल इंडिया रैंक 1 हासिल किया, वहीं जतिन किशोर दूसरी रैंक हासिल करने में सफल रहे. इसके साथ ही लड़कियों में बाजी मारी रैंक 3 प्राप्त करने वाली ' प्रतिभा वर्मा ' ने.

एनडीटीवी से ख़ास बातचीत में रैंक 2  हासिल करने वाले जतिन किशोर ने अपनी परीक्षा की स्ट्रेटजी शेयर की और अपनी सफलता का मंत्र बताया . जतिन ने बताया कि इस वर्ष की परीक्षा में उन्होंने किन बातों का खासतौर पर ध्यान रखा और किस तरह से तैयारी की. साथ ही साथ जिन किताबों और ऑनलाइन रिसोर्सेस की मदद से जतिन ने पढ़ाई की, वो उस विषय में भी जानकारी दे रहे हैं.

जतिन ने यूपीएससी के भावी परीक्षार्थियों के लिए कहा, ''परीक्षार्थियों को कंटेट पर अधिक फोकस करना होगा तभी सफलता प्राप्त होगी ''.

ये जतिन का दूसरा प्रयास रहा जो उन्होंने '' इंडियन इकोनॉमिक सर्विस '' की ट्रेनिंग में रहते हुए ये अटेम्पट दिया और 2018 में यूपीएससी द्वारा आयोजित '' इंडियन इकोनॉमिक सर्विस '' यानी ' IES ' की परीक्षा में रैंक 1 हासिल किया था. जतिन फिलहाल ' मिनिस्ट्री ऑफ रूरल डेवलपमेंट ' में अस्सिटेंट डायरेक्टर के पद पर कार्यरत हैं. आपको बताते चलें कि जतिन ने अपना ग्रेजुएशन और पोस्ट-ग्रेजुएशन दोंनो ही इकोनॉमिक्स विषय में किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

आपको ये भी बतातें चलें कि यूपीएससी हर साल परीक्षा आयोजित कराता है . इस बार 31 मई को होने वाली परीक्षा कोविड-19 के कारण 4 अक्टूबर तक स्थगित कर दी गई है.

वीडियो: ट्रोलिंग का शिकार हुईं 2014 की यूपीएससी टॉपर इरा सिंघल