UP में कब होंगी कॉलेज और यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं, सरकार ने दी जानकारी

उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने एक बयान में कहा कि राज्य में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की वार्षिक और सेमेस्टर परीक्षाएं 30 जून के बाद से आयोजित की जाएंगी.

UP में कब होंगी कॉलेज और यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं, सरकार ने दी जानकारी

यूपी के कॉलेज और यूनिवर्सिटी में 30 जून के बाद परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी.

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस महामारी के चलते देशभर के सभी शैक्षणिक संस्थान बंद कर दिए गए थे. इसी के साथ बोर्ड परीक्षाओं से लेकर कॉलेज और यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई थीं. इन सबके बाद अब उत्तर प्रदेश में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में दोबारा से परीक्षाएं आयोजित कराने पर विचार किया जा रहा है. उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने एक बयान में कहा कि राज्य में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की वार्षिक और सेमेस्टर परीक्षाएं 30 जून के बाद से आयोजित की जाएंगी. उन्होंने सभी संस्थानों को परीक्षाएं आयोजित करने के लिए आवश्यक व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. 

उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने सोशल मीडिया के जरिए कहा, "राज्य की यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में वार्षिक और सेमेस्टर परीक्षाएं 30 जून के बाद आयोजित की जाएंगी." उन्होंने ये भी लिखा, "उच्च शिक्षण संस्थानों में सत्र 2019-20 की परीक्षाएं सम्पन्न कराने हेतु एवं बी-एड-2020 की संयुक्त प्रवेश परीक्षा के आयोजन को सफल बनाने हेतु आवश्यक कार्यवाहियां सुनिश्चित कराई जाएं."

सेमेस्टर एग्जाम और सैनिटाइजेशन

Newsbeep

राजेंद्र कुमार तिवारी ने सभी संस्थानों को परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों के लिए एल्कोहल बेस्ड सैनिटाइजर की व्यवस्था भी करने के आदेश दिए हैं. उन्होंने कहा, "परीक्षाओं को सफल रूप से आयोजित कराने के लिए इंस्टीट्यूट को स्टूडेंट्स के लिए एल्कोहल बेस्ड सैनिटाइजर की व्यवस्था करनी होगी. "

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि उत्तर प्रदेश में सभी शैक्षणिक संस्थान कोरोनावायरस लॉकडाउन के चलते मार्च के महीने से ही बंद हैं. वहीं, उत्तर प्रदेश में 10वीं और 12वीं  की बोर्ड परीक्षाएं लॉकडाउन से पहले ही पूरी हो गई थीं. यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं परीक्षाओं का रिजल्ट 27 जून को जारी कर सकता है. इस साल 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं कुल 56.11 लाख स्टूडेंट्स शामिल हुए थे.