CBSE Board Exam 2020: कब से चेक की जाएंगी बोर्ड परीक्षा की कॉपियां, CBSE ने दी ये जानकारी

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने स्टूडेंट्स की आंसर शीट्स जांचने के बारे में नई जानकारी साझा की है. सीबीएसई ने एक स्टेटमेंट जारी करके बताया कि वे इवैल्यूएशन का काम नहीं कर पा रहे हैं. 

CBSE Board Exam 2020: कब से चेक की जाएंगी बोर्ड परीक्षा की कॉपियां, CBSE ने दी ये जानकारी

CBSE ने स्टूडेंट्स की आंसर शीट्स जांचने के बारे में नई जानकारी साझा की है.

नई दिल्ली:

CBSE: देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के चलते एजुकेशन सेक्टर पर ब्रेक लग गया है. सभी तरह के एग्जाम स्थगित कर दिए गए हैं. हाल ही में सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) ने भी पोस्टपोन की गई परीक्षाओं को लेकर कई बड़े ऐलान किए हैं. बोर्ड परीक्षाओं के बारे में जानकारी देने के बाद अब सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने स्टूडेंट्स की आंसर शीट्स जांचने के बारे में नई जानकारी साझा की है. सीबीएसई ने एक स्टेटमेंट जारी करके बताया कि वे इवैल्यूएशन का काम नहीं कर पा रहे हैं. 

बता दें कि सीबीएसई के 10वीं क्लास के एग्जाम पूरे हो चुके हैं. 12वीं और पूर्वी दिल्ली के दंगों से प्रभावित स्टूडेंट्स के एग्जाम होने बाकी हैं. इस पर बोर्ड का कहना है कि वे इवैल्यूएशन के बारे में नए इंस्ट्रक्शन जारी करेंगे. बुधवार को बोर्ड ने कहा, "देशभर में मौजूद सभी इवैल्यूएशन सेंटर में आंसर शीट्स जांचने की प्रक्रिया इन हालातों में जारी नहीं की जा सकती है. हालांकि बोर्ड इवैल्यूएशन का काम शुरू करने से 3-4 दिन पहले नोटिस जारी करके जानकारी देगा." 

विदेश में नहीं होंगी बोर्ड की परीक्षाएं
कोरोनावायरस महामारी के चलते पैदा हुई स्थिति को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) विदेशों में 10वीं और 12वीं कक्षाओं की लंबित परीक्षाएं नहीं लेगा. सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने कहा, ‘‘25 देशों में कई सीबीएसई स्कूल स्थित हैं. 

उन्होंने कहा, ‘‘साथ ही, मौजूदा समय में मूल्यांकन के लिये उत्तर पुस्तिकाओं को भारत मंगाना भी कठिन होगा. इसलिए, बोर्ड ने निर्णय लिया है कि विदेशों में स्थित स्कूलों की 10वीं और 12वीं कक्षाओं की परीक्षाएं नहीं ली जाएंगी.'' उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस महामारी फैलने के बाद से 18 मार्च को परीक्षाएं स्थगित कर दी गई थीं.

भारत में इन विषयों के होंगे एग्जाम
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं केवल उन 29 मुख्य विषयों के लिए आयोजित करेगी जो उच्च शिक्षण संस्थानों में दाखिले के लिए महत्वपूर्ण होते हैं. उन्होंने कहा, 'सीबीएसई को केवल 29 मुख्य विषयों के लिए बोर्ड परीक्षाएं आयोजित कराने की सलाह दी है जो कि प्रोन्नत किए जाने और विश्वविद्यालय में दाखिले के लिए महत्वपूर्ण होते हैं.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com