NDTV Khabar

'छोटा भीम' ने बदल दी राजीव चिलाका की किस्मत, बन गये भारत के 'वॉल्ट डिज्नी'

ग्रीन गोल्ड एनिमेशन फाउंडर और सीईओ राजीव चिलाका भारतीय एनिमेशन इंडस्ट्री ऐसा नाम है, जो 'छोटा भीम', 'कृष्णा' जैसे कार्टून को बच्चों के बीच मशहूर बना दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'छोटा भीम' ने बदल दी राजीव चिलाका की किस्मत, बन गये भारत के 'वॉल्ट डिज्नी'

ग्रीन गोल्ड एनिमेशन फाउंडर और सीईओ राजीव चिलाका

खास बातें

  1. 'छोटा भीम' से मिली पहचान
  2. कहलाये भारत के 'वॉल्ट डिज्नी'
  3. आ रही 'हनुमान वर्सेज महिरावण' फिल्म
नई दिल्ली: ग्रीन गोल्ड एनिमेशन फाउंडर और सीईओ राजीव चिलाका भारतीय एनिमेशन इंडस्ट्री ऐसा नाम है, जो 'छोटा भीम', 'कृष्णा' जैसे कार्टून को बच्चों के बीच मशहूर बना दिया. चिलाका को साल 2016 में सैन फ्रैन्सिस्को के एकेडमी ऑफ आर्ट यूनिवर्सिटी से डॉक्टरेट की उपाधि मिली. डॉ. चिलाका ने रामनाथपुर के हैदराबाद पब्लिक स्कूल से स्कूलिंग की. उन्होंने अपनी बैचलर डिग्री सन् 1995 में हैदराबाद के ओसमानिया यूनिवर्सिटी से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्यूनिकेशन्स से इंजीनियरिंग की. इसके बाद उन्होंने अमेरिका के कन्सास सिटी के यूनिवर्सिटी ऑफ मिसौरी से कम्प्यूटर साइंस से मास्टर डिग्री ली.

हनुमान को फलों का लालच देकर महिरावण ने किया था राम-लक्ष्मण का अपहरण, जानें कैसी है फिल्म

राजीव चिलाका ने अपने करियर की शुरुआत कन्सास सिटी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर पर शुरु की थी. तीन साल तक काम करने के बाद उन्होंने एनिमेशन की पढ़ाई के लिए साल 2000 में एकेडमी ऑफ आर्ट यूनिवर्सिटी में कोर्स ज्वाइन किया. राजीव के बड़े भाई श्रीनिवास चिलाका ने उन्हें ग्रीनगोल्ड को चलाने में मदद करते हैं. टेक्नोक्रेट मधुसुदन राव चिलाका के सबसे छोटे बेटे राजीव हैं. राजीव को भारत के 'वॉल्ट डिज्नी' भी कहा जाने लगा है.

देखें ट्रेलर-


साल 2001 जनवरी में राजीव चिलाका ने ग्रीन गोल्ड एनिमेशन प्राइवेट लिमिटेड की शुरुआत की. एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में बच्चों के लिए ग्रीन गोल्ड सबसे बड़ी एनिमेशन प्रोडक्शन कंपनी बन गई है. चिलाका को पहला ब्रेक 2003 में एनिमेशन सीरीज 'बोंगो' से मिला, जिसमें उन्होंने एक एलियन के बारे में दिखलाया जो पृथ्वी पर लैंड करता है. राजीव चिलाका और उनकी टीम ने कार्टून नेटवर्क के लिए एनिमेटेड टेलीफिल्म सीरीज 'लाइफ ऑफ कृष्णा' चलाई. इसके बाद साल 2008 में उन्होंने पोगो चैनल के लिए 'छोटा भीम' प्रोजेक्ट लाया, जो बच्चों में सबसे ज्यादा मशहूर हुआ. 

छोटा भीम एपिसोड-


राजीव चिलाका की ग्रीन गोल्ड एनिमेशन प्राइवेट लिमिटेड ने कई एनिमेशन सीरीज चलाई. राजीव ने साल 2004 में 'विक्रम बेताल' (कार्टून नेटवर्क), 2004 से 2006 के बीच 'बोंगो' (डीडी नेशनल), 2006 से 2007 के बीच 'कृष्णा' (कार्टून नेटवर्क), 2009 में 'कृष्णा एंड बलराम' (कार्टून नेटवर्क), 2008 से अभी तक 'छोटा भीम' (पोगो टीवी), 2009 से 2012 के बीच 'चोर पुलिस' (डिज्नी एक्सडी), 2011 से अब तक 'माइटी राजू' (पोगो टीवी), 2012 से 2014 तक 'लव कुश' (डिज्नी एक्सडी), 2014 से 2016 के बीच 'अर्जुन: द प्रिंस ऑफ बली' (डिज्नी चैनल इंडिया) से अपनी दुनियाभर में पहचान बना ली.

छोटा भीम और कृष्णा एपिसोड-


टिप्पणियां
फिलहाल अभी उनकी थ्रीडी एनिमेटेड फिल्म 'हनुमान वर्सेज महिरावण' 6 जुलाई को रिलीज होने जा रही है. इस फिल्म के जरिए उन्होंने एक नए निगेटिव किरदार को लाये. देखना होगा कि बड़े पर्दे पर राजीव चिलाका कितना सफल हो पाते हैं.

 ...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement