ईडी ने 600 करोड़ के चिटफंड घोटाले में एजेंट को गिरफ्तार किया

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने फर्जी योजना चलाकर हजारों निवेशकों के 600 करोड़ रुपये की बेईमानी करने वाली चंडीगढ़ की यूनी पे ग्रुप के एक एजेंट को गिरफ्तार कर लिया है.

ईडी ने 600 करोड़ के चिटफंड घोटाले में एजेंट को गिरफ्तार किया

छापेमारी के दौरान 4.18 करोड़ रुपये मूल्य तक की महंगी कारें जब्त की गईं...

चंडीगढ़/नई दिल्ली:

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने फर्जी योजना चलाकर हजारों निवेशकों के 600 करोड़ रुपये की बेईमानी करने वाली चंडीगढ़ की यूनी पे ग्रुप के एक एजेंट को गिरफ्तार कर लिया है. एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. ईडी ने दिल्ली, उत्तर प्रदेश के गाजीपुर और हरियाणा के गुरुग्राम, फरीदाबाद और अंबाला में छापेमारी की और शुक्रवार को कंपनी के एजेंट कमल के. बख्शी को गिरफ्तार कर लिया. फरार चल रहे बख्शी को अपराधी घोषित किया जा चुका है. ईडी ने शनिवार को बख्शी को विशेष अदालत के समक्ष पेश किया, जहां उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

पढ़ें: रोज वैली घोटाला : प्रवर्तन निदेशालय ने 293 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की

ईडी ने एक वक्तव्य जारी कर कहा, "अपनी जांच के दौरान हमने यूनी पे ग्रुप के दो एजेंटों - बख्शी और अरविंद कुमार सिंह - पर ध्यान केंद्रित किया और शुक्रवार को पांच अलग-अलग जगहों पर एकसाथ छापेमारी की. छापेमारी के दौरान कुछ अचल संपत्तियों के दस्तावेज, गहने, 4.18 करोड़ रुपये मूल्य तक की महंगी कारें जब्त की गईं."

VIDEO : मनी लॉड्रिंग केस : मीसा भारती और दामाद के तीन ठिकानों पर ED का छापा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एक ईडी अधिकारी ने बताया कि हजारों अनजान निवेशकों को भारी लाभ का लालच देकर उनके 600 करोड़ रुपये हड़प लिए गए. अधिकारी के अनुसार, बड़ी संख्या में निवेशकों को आकर्षित करने के लिए शुरू में निवेश करने वाले लोगों को भारी लाभ दिया गया.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)