जयललिता अब भी लाइफ सपोर्ट पर, अफवाहें 'आधारहीन और झूठी' - अपोलो अस्पताल

जयललिता अब भी लाइफ सपोर्ट पर, अफवाहें 'आधारहीन और झूठी' - अपोलो अस्पताल

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता (फाइल फोटो)

खास बातें

  • 'अपोलो, एम्स के डॉक्टरों की एक बड़ी टीम हरसंभव उपाय कर रही है'
  • 'पार्टी दफ्तर पर पहले झंडे को झुकाया गया, फिर सीधा किया गया'
  • 'इससे पहले समर्थकों ने अपोलो अस्पताल के बाहर पुलिस पर पत्थर फेंके'
चेन्नई:

अपोलो अस्पताल ने सोमवार शाम कहा कि डॉक्टरों का एक दल तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता की सेहत पर लगातार नजर रखे हुए है. उसने उन मीडिया रिपोर्टों को पूरी तरह से निराधार और गलत करार दिया है, जिसमें विरोधाभासी बातें कही गई थीं.

अस्पताल ने कहा, 'कुछ टीवी चैनल गलत रिपोर्ट दे रहे हैं. उनको सलाह दी गई है कि वे अस्पताल द्वारा जारी विज्ञप्ति के आधार पर अपनी गलती सुधारें.'

अपोलो अस्पताल की संगीता रेड्डी ने बताया कि अपोलो और एम्स के डॉक्टरों की एक बड़ी टीम जयललिता को बचाने के लिए हरसंभव उपाय कर रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अन्नाद्रमुक के कार्यालय में पहले पार्टी के झंडे को आधा झुके दिया गया था, लेकिन बाद में इसे फिर सीधा कर दिया गया, जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने जमकर खुशी का इजहार किया. इससे करीब एक घंटे पहले सैकड़ों समर्थकों ने अपोलो अस्पताल के बाहर पुलिस पर पत्थर फेंके और बैरिकेड तोड़ डाले.

लंदन के डॉक्टर रिचर्ड बेले ने एक बयान में कहा कि जयललिता की स्थिति 'अत्यंत गंभीर' है. उन्होंने कहा, 'स्थिति अत्यंत गंभीर है, लेकिन मैं इसकी पुष्टि करता हूं कि जो भी संभव है वह किया जा रहा है, ताकि उन्हें इस स्थिति से बचने का सर्वश्रेष्ठ मौका दिया जा सके. विशेषज्ञों की टीम द्वारा उनकी देखभाल की जा रही है और वह अब अत्यंत आवश्यक जीवन रक्षक प्रणाली पर हैं.'