NDTV Khabar

तमिलनाडु के मंत्रियों ने देर रात की अहम बैठक, AIADMK के धड़ों को साथ लाने की कोशिश

129 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
तमिलनाडु के मंत्रियों ने देर रात की अहम बैठक, AIADMK के धड़ों को साथ लाने की कोशिश

एआईएडीएमके, शशिकला और पन्नीरसेल्वम की अगुवाई वाले दो विरोधी खेमों में बंट गया था (फाइल फोटो)

चेन्नई: तमिलनाडु में वीके शशिकला की अगुवाई वाली एआईएडीएमके अम्मा धड़े के 25 मंत्री और विधायकों ने सोमवार रात चेन्नई में इमरजेंसी बैठक की. ऐसी अटकलें लगाई जा रही हैं कि वे पूर्व मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम के नेतृत्व वाले प्रतिद्वंद्वी खेमे से मेल-मिलाप की कोशिशों में जुटे हैं. खबरों के मुताबिक पार्टी प्रमुख शशिकला और उनके भतीजे तथा उप प्रमुख टीटीवी दिनाकरन पर इस्तीफे का दबाव है. दिनाकरन भ्रष्टाचार के मामले में बेंगलुरु की जेल में बंद अपनी बुआ शशिकला से मिलने गए हुए हैं. चेन्नई से रवाना होने से पहले उन्होंने जोर देकर इस बात से इनकार किया कि उनके खिलाफ बगावत के सुर बुलंद हो रहे हैं.

इधर चेन्नई में एक 'समझौते के एक फॉर्मूले' की चर्चा है, जिसके मुताबिक शशिकला की जगह पर पन्नीरसेल्वम फिर से एक होने वाली एआईएडीएमके के प्रमुख हो सकते हैं. मुख्यमंत्री जयललिता के निधन के बाद शशिकला पार्टी की प्रमुख बनी थीं.

शशिकला की अगुवाई वाले धड़े के सूत्रों ने कहा कि उनकी प्राथमिकता तमिलनाडु की सरकार और पार्टी के चुनाव निशान को बचाना है, जिसे चुनाव आयोग ने फिलहाल फ्रीज कर रखा है और किसी भी धड़े को नहीं दिया है. वहीं पन्नीरसेल्वम खेमे के सूत्रों का कहना है कि वे समझौता करने के लिए तैयार हैं, बशर्ते उनकी शर्तें मान ली जाएं.

शशिकला ने फरवरी में चेन्नई से बेंगलुरु जेल रवाना होने से कुछ घंटे पहले ही टीटीवी दिनाकरन को पार्टी का डिप्टी चीफ नियुक्त किया था. उन्होंने यह भी सुनिश्चित कर लिया था कि उनके वफादार नेता ई पलानीसामी मुख्यमंत्री बन जाएं. पन्नीरसेल्वम खेमे के साथ मेल-मिलाप की कोशिशों में पलानीसामी को केंद्रीय भूमिका में देखा जा रहा है और संभावना है कि जिस फॉर्मूले पर विचार-विमर्श किया जा रहा है, उसके तहत वह मुख्यमंत्री बने रह सकते हैं.

कई मंत्री और एआईएडीएमके के विधायक इस बात को लेकर चिंतित हैं कि दिनाकरन के खिलाफ भ्रष्टाचार के हालिया आरोपों से पार्टी को नुकसान हो रहा है. इनमें से कई ने कथित तौर पर दिनाकरन और शशिकला परिवार के अन्य सदस्यों को दो दिनों के भीतर इस्तीफा देने को भी कहा है. सूत्रों के मुताबिक दिनाकरन ने पन्नीरसेल्वम गुट से शांति समझौता करने की कोशिशों में अवरोध पैदा किए.

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने आरके नगर विधानसभा सीट के उपचुनाव में 'दो पत्तियों' वाला चुनाव चिह्न प्राप्त करने के लिए निर्वाचन आयोग के अधिकारियों को रिश्वत देने की कथित कोशिश करने के संबंध में दिनाकरन के खिलाफ मामला दर्ज किया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement